जम्मू-कश्मीर में 12 सरकारी अधिकारी बर्खास्त, राष्ट्रविरोधी गतिविधियों में शामिल होने का आरोप

जम्मू-कश्मीर में 12 सरकारी अधिकारी बर्खास्त, राष्ट्रविरोधी गतिविधियों में शामिल होने का आरोप

कश्मीर में प्रदर्शन के दौरान तैनात सुरक्षाकर्मी

खास बातें

  • पुलिस ने इन अधिकारियों की राष्ट्रविरोधी गतिविधियों से जुड़ी रिपोर्ट दी
  • इनमें कश्मीर यूनिवर्सिटी के सहायक रजिस्ट्रार भी शामिल हैं.
  • शिक्षा, रेवेन्यू, स्वास्थ्य, इंजीनियरिंग और खाद्य आपूर्ति विभाग के लोग भी
श्रीनगर:

जम्मू कश्मीर के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि राज्य सरकार ने एक दर्जन से ज्यादा कर्मचारियों को राष्ट्रविरोधी गतिविधियों में शामिल होने के आरोप में बर्खास्त कर दिया है.

अधिकारी ने बताया कि राज्य की पुलिस ने इन सभी अधिकारियों की राष्ट्रविरोधी गतिविधियों से जुड़ी रिपोर्ट के मुख्य सचिव को सौंप दिया जिसके बाद उन्होंने सभी के संबंधित विभागों के प्रमुखों को बर्खास्त करने के लिए कहा.

बर्खास्त किए गए लोगों में कश्मीर यूनिवर्सिटी के सहायक रजिस्ट्रार भी शामिल हैं. इनके अलावा शिक्षा, रेवेन्यू, स्वास्थ्य, इंजीनियरिंग और खाद्य आपूर्ति विभाग के कर्मचारी हैं.

अधिकारी ने बताया कि राज्य सरकार ने राज्य के संविधान के आर्टिकल 126 के तहत इस कार्रवाई को अंजाम दिया है.

अधिकारियों का कहना है कि इनमें से कुछ कर्मचारियों पर पहले से ही पब्लिक सेफ्टी एक्ट के तहत केस दर्ज किया गया है जबकि कुछ लोग अपनी गिरफ्तारी से बचने के लिए फरार हैं.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

उल्लेखनीय है कि 9 जुलाई को हिज्बुल के आतंकवादी बुरहान वानी की सुरक्षाबलों के साथ एनकाउंटर में मौत के बाद हुए प्रदर्शन में अब तक करीब 91 लोग मारे गए हैं जबकि पिछले 104 दिनों से जारी इन प्रदर्शनों में 12000 से ज्यादा लोग घायल हुए हैं.

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)