NDTV Khabar

TOP 5 NEWS: कर्नाटक में अयोग्य घोषित हुए 14 बागी विधायक, सारण में तालाब में डूबने से 7 बच्चों की मौत

बिहार में राष्ट्रीय जनता दल के वरिष्ठ नेताओं और विधायकों में असंतोष हैं. कहा जा रहा है कि ये नाराज़गी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष लालू यादव के उत्तराधिकारी तेजस्वी यादव को लेकर हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
TOP 5 NEWS: कर्नाटक में अयोग्य घोषित हुए 14 बागी विधायक, सारण में तालाब में डूबने से 7 बच्चों की मौत

बीएस येदियुरप्पा सोमवार को कर्नाटक विभानसभा में बहुमत साबित करेंगे

नई दिल्ली:

कर्नाटक विधानसभा के अध्यक्ष के. आर. रमेश कुमार ने साल 2023 में विधानसभा का मौजूदा कार्यकाल खत्म होने तक दल-बदल रोधी कानून के तहत 14 और असंतुष्ट विधायकों को रविवार को अयोग्य ठहराया है. इसमें 11 कांग्रेस के और 3 जेडीएस के विधायक हैं. मुख्यमंत्री बी एस येदियुरप्पा के बहुमत साबित करने के एक दिन पहले अध्यक्ष का यह फैसला सामने आया है. वहीं उत्तर प्रदेश की बागडोर योगी आदित्यनाथ को सौंपने को लेकर अमित शाह ने जवाब दिया है. लखनऊ के एक कार्यक्रम में बोलते हुए शाह ने कहा कि उन्हें कर्मठ और कठोर परिश्रम के कारण मुख्यमंत्री बनाया गया है. उधर घाटी में पाकिस्तान समर्थित आतंकवादियों की ओर से एक बड़े आतंकी हमले की योजना बनाई जा रही है. सूत्रों के हवाले से ऐसी खबर मिल रही है. अभी हाल ही में राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (NSA)अजीत डोभाल ने जम्मू-कश्मीर में आतंकवाद निरोधी ग्रिड के साथ बैठक की थी. इसके बाद ही जम्मू-कश्मीर में और अधिक सैनिकों को तैनात करने का फैसला लिया गया है. अगली खबर बिहार से है जहां सारण जिले के अंतर्गत इसुआपुर थाना क्षेत्र के डोइला गांव में रविवार को तालाब में नहाने गए 7 बच्चों की डूबने से मौत हो गई. प्राप्त जानकारी के अनुसार गांव के दर्जनों बच्चे तालाब में  स्नान कर रहे थे. बरसात की वजह से तालाब में पानी भी ज्यादा था. इसी दौरान एक बच्चा डूबने लगा और उसे बचाने के चलते एक के बाद एक सात बच्चे तालाब में डूब गए. दूसरी ओर बिहार में राष्ट्रीय जनता दल के वरिष्ठ नेताओं और विधायकों में असंतोष हैं. कहा जा रहा है कि ये नाराज़गी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष लालू यादव के उत्तराधिकारी तेजस्वी यादव को लेकर हैं. लोकसभा चुनाव के दौरान राजद से जनता दल यूनाइटेड में  नेताओं के जाने का जो क्रम शुरू हुआ वो रविवार को भी जारी रहा. रविवार को राजद के पूर्व सांसद मोहम्मद अली अशरफ़ फ़ातमी ने जनता दल यूनाइटेड (जदयू) का दामन थाम लिया. फ़ातमी के साथ दरभंगा जिले के कई नेताओं ने जनता दल यूनाइटेड की सदस्यता ली. 

कर्नाटक में नाटक जारी: विधानसभा स्पीकर ने 14 बागी विधायकों को अयोग्य करार दिया
कर्नाटक विधानसभा के अध्यक्ष के. आर. रमेश कुमार ने साल 2023 में विधानसभा का मौजूदा कार्यकाल खत्म होने तक दल-बदल रोधी कानून के तहत 14 और असंतुष्ट विधायकों को रविवार को अयोग्य ठहराया. मुख्यमंत्री बी एस येदियुरप्पा के अपना बहुमत साबित करने के लिए विधानसभा में विश्वास मत प्रस्ताव रखने के एक दिन पहले अध्यक्ष का यह फैसला सामने आया है. जिन विधायकों पर कार्रवाई की गई है उनमें 11 कांग्रेस के और तीन जद(एस) के हैं. 

ld45o8qcकुमार ने कहा, ‘मैंने अपने न्यायिक विवेक का इस्तेमाल किया.' उन्होंने पहले कांग्रेस के तीन असंतुष्ट विधायकों को गुरुवार को अयोग्य करार दे दिया था और कहा था कि वह बाकी के मामलों में ‘आने वाले कुछ दिनों में' अपने फैसले की घोषणा करेंगे. कांग्रेस और जद(एस) की सरकार विधायकों के एक वर्ग के बागी होने के बाद मंगलवार को गिर गई थी. दोनों दलों ने अध्यक्ष से उनके बागी विधायकों को अयोग्य करार देने का आग्रह किया था. इसके बाद विधानसभा में सदस्यों की संख्या 208 हो गई. अब बहुमत का आंकड़ा 105 हो गया है, यह संख्या भारतीय जनता पार्टी के पास है.


अमित शाह ने बताया, आखिर क्यों बनाया गया है योगी आदित्यनाथ को उत्तर प्रदेश का मुख्यमंत्री

 बीजेपी अध्यक्ष और गृहमंत्री अमित शाह  ने आज एक कार्यक्रम में इस बात का खुलासा किया है कि  पीएम मोदी  और उन्होंने योगी आदित्यनाथ को देश के सबसे ज्यादा सीटों वाले राज्य उत्तर प्रदेश का मुख्यमंत्री क्यों बनाया है. गौरतलब है कि गोरखधाम मंदिर के मुख्य पुजारी रहे योगी का इस पद के लिए चुना जाना कई लोगों के लिए हैरान करने वाला था. हालांकि योगी की छवि राज्य में हिंदुत्व के पोस्टर ब्वाय के रूप में बन चुकी थी. वहीं सीएम पद के लिए उनके नाम की घोषणा इसलिए भी हैरान करने वाला था क्योंकि उनको प्रशासन का कोई भी अनुभव नहीं था. लेकिन उनके नाम की घोषणा इस पद पर किए जाने की वजह का खुलासा करते हुए अमित शाह ने कहा, 'किसी ने सोचा भी नहीं था कि योगी मुख्यमंत्री बनेंगे. कई लोगों ने मुझसे कहा कि योगी को तो नगर निगम चलाने का भी अनुभव नहीं है, आप उन्हें सीएम क्यों बना रहे हैं. हां यह सही है कि उनको नगर निगम चलाने  का भी अनुभव नहीं था. वह एक मंदिर के प्रमुख थे.'
 

2tolof1

लखनऊ में एक कार्यक्रम के दौरान सीएम योगी आदित्यनाथ की मौजूदगी में अमित शाह ने आगे कहा, ' लोगों ने मुझसे कहा आप उनको इतने बड़े राज्य की कमान क्यों सौंप रहे हैं. लेकिन पीएम मोदी और मैंने उन्हें सीएम बनाने का फैसला किया. क्योंकि वह कर्मठ हैं और उन्होंने अपने कम अनुभव को कठोर परिश्रम से कभी बाधा नहीं बनने दिया. 


जम्मू-कश्मीर में सीमा पार से बड़े आतंकी हमले की रची जा रही है साजिश : सूत्र

सूत्रों के हवाले से खबर मिल रही है कि पाकिस्तान समर्थित आतंकवादियों की ओर से जम्मू-कश्मीर में एक बड़े आतंकी हमले की योजना बनाई जा रही है जिसको लेकर राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (NSA)अजीत डोभाल ने कुछ दिन पहले ही जम्मू-कश्मीर में आतंकवाद निरोधी ग्रिड के साथ बैठक की थी. इसके बाद ही घाटी में और अधिक सैनिकों को तैनात करने का फैसला लिया गया है.  आपको बता दें कि केंद्र सरकार ने राज्य में 10 हजार अतिरिक्त जवानों की तैनाती की है. यह तैनाती अजीत डोभालके जम्मू-कश्मीर के दो दिन के दौरे से लौटने के बाद लिया गया. 
 

vhntu12g

सूत्रों के अनुसार अपने दौरे के दौरान अजीत डोभाल ने राज्य के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ कानून व्यवस्था को लेकर बैठक की थी. वहीं, जम्मू-कश्मीर पुलिस के डीजी दिलबाग सिंह ने बताया कि वह पहले से ही उत्तरी कश्मीर में अतिरिक्त सैनिकों की तैनाती की मांग करते रहे हैं. अतिरिक्त जवानों की तैनाती उनके आग्रह के बाद ही हुई है. उधर, गृहमंत्रालय द्वारा जारी किए गए ऑर्डर में कहा गया है कि अतिरिक्त जवानों की तैनाती इसलिए की जा रही है ताकि राज्य में कानून-व्यवस्था बेहतर की जा सके. 


सारण में तालाब में नहाने गए 7 बच्चों की डूबने से मौत

बिहार के सारण जिले के अंतर्गत इसुआपुर थाना क्षेत्र के डोइला गांव में रविवार को एक बड़ा हादसा हो गया. यहां तालाब में नहाने गए 7 बच्चों की डूबने से मौत हो गई. प्राप्त जानकारी के अनुसार गांव के दर्जनों बच्चे तालाब में  स्नान कर रहे थे. बरसात की वजह से तालाब में पानी भी ज्यादा था. इसी दौरान एक बच्चा डूबने लगा और उसे बचाने के चलते एक के बाद एक सात बच्चे तालाब में डूब गए. इस घटना की खबर से पूरे गांव में मातम पसर गया है. 

crime scene istock

घटना की जानकारी मिलते ही स्थानीय थानाध्यक्ष रूपेश कुमार वर्मा दल बल के साथ मौके पर पहुंचे और गोताखोरों की मदद से बच्चों के शवों को निकाला गया. समाचार लिखे जाने तक 6 बच्चों के शवों को निकाल लिया गया है. अभी एक बच्चे के शव को निकालने के लिए गोताखोर प्रयास में जुटे हुए हैं. 
 

बिहार में राजद नेताओं का जदयू में पलायन जारी, अब अली अशरफ़ फ़ातमी ने छोड़ा लालू की पार्टी का साथ

टिप्पणियां

बिहार में राष्ट्रीय जनता दल के वरिष्ठ नेताओं और विधायकों में असंतोष हैं. कहा जा रहा है कि ये नाराज़गी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष लालू यादव के उत्तराधिकारी तेजस्वी यादव को लेकर हैं. लोकसभा चुनाव के दौरान राजद से जनता दल यूनाइटेड में  नेताओं के जाने का जो क्रम शुरू हुआ वो रविवार को भी जारी रहा. रविवार को राजद के पूर्व सांसद मोहम्मद अली अशरफ़ फ़ातमी ने जनता दल यूनाइटेड (जदयू) का दामन थाम लिया. फ़ातमी के साथ दरभंगा जिले के कई नेताओं ने जनता दल यूनाइटेड की सदस्यता ली. फ़ातमी लोकसभा चुनाव में दरभंगा से टिकट नहीं मिलने से नाराज़ थे और उसी समय से उन्होंने विद्रोह का बिगुल फूंक दिया था. 
 

1qujdc48

उस समय भी उन्होंने राजद और उनके सहयोगी दलों के नेताओं का विरोध किया था. फातमी के बाद उनके बेटे फ़राज़ फ़ातमी जो राजद के विधायक हैं उनका भी जनता दल यूनाइटेड में शामिल होना तय माना जा रहा है. 
 



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement