NDTV Khabar

तालाब में कूदकर बच्‍चों को बचाने वाली नेत्रावती को मरणोपरांत मिलेगा वीरता पुरस्‍कार

नेत्रावती ने तालाब में डूब रहे दो बच्‍चों की जान बचाने के लिए अपनी जिंदगी की परवाह नहीं की और सबके लिए मिसाल बन गईं.

241 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
तालाब में कूदकर बच्‍चों को बचाने वाली नेत्रावती को मरणोपरांत मिलेगा वीरता पुरस्‍कार

कर्नाटक की नेत्रावती एम चव्‍हान (फाइल फोटो)

नई दिल्ली: कर्नाटक की नेत्रावती एम चव्‍हान को 24 जनवरी को मरणोपरांत प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के हाथों राष्‍ट्रीय वीरता पुरस्‍कार से नवाजा जाएगा. नेत्रावती ने तालाब में डूब रहे दो बच्‍चों की जान बचाने के लिए अपनी जिंदगी की परवाह नहीं की और सबके लिए मिसाल बन गईं.

बात 13 मई 2017 की है. कर्नाटक की रहने वाली 14 वर्षीय नेत्रावती एक पत्‍थर की खदान के पास बने तालाब के किनारे कपड़े धो रही थी. बारिश की वजह से तालाब पानी से लबालब भरा था. उसी समय गणेश और मुथू नाम के दो बच्‍चे तालाब में तैराकी करने लगे. नेत्रावती ने अचानक बच्‍चों को तालाब में डूबते हुए देखा. वह बिना घबराए बच्‍चों को बचाने के लिए पानी में कूद पड़ी. 30 फुट गहरे तालाब में वीरतापूर्वक पानी को चीरते हुए नेत्रावती 16 साल के मुथू को सुरक्ष‍ित बाहर निकाल लाई.

यह भी पढ़ें - यूपी की नाजिया को मिलेगा वीरता पुरस्‍कार, मोहल्‍ले में चले रहे जुए के धंधे को कराया था बंद

फिर वह गणेश को बचाने के लिए वापिस तालाब में गई. दुर्भाग्‍यवश भयभीत गणेश ने नेत्रावती की गर्दन पकड़ ली और उसका दम घुटने लगा, जिससे दोनों को अपनी जान से हाथ धोना पड़ा. नेत्रावती ने निडर होकर खतरे का सामना किया और बच्‍चों को बचाने के लिए खुद के प्राणों की आहूति दे दी. नेत्रावती की वीरता और निस्‍वार्थ भाव को हमारा सलाम.

कर्नाटक की नेत्रावती एम चव्‍हान इस साल 24 जनवरी को मरणोपरांत राष्‍ट्रीय वीरता पुरस्‍कार से नवाजा जाएगा. 

VIDEO: गणतंत्र दिवस पर 18 बहादुर बच्चों को दिए जाएंगे वीरता पुरस्कार


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement