NDTV Khabar

हिमाचल प्रदेश के कुल्लू में गहरे नाले में गिरी बस, 44 लोगों की मौत, PM मोदी ने हादसे पर जताया दुख

हिमाचल प्रदेश के कुल्लू जिले में एक बस के गहरे नाले में गिर जाने से 44 लोगों की मौत हो गई और 30 से अधिक घायल हो गए हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
हिमाचल प्रदेश के कुल्लू में गहरे नाले में गिरी बस, 44 लोगों की मौत, PM मोदी ने हादसे पर जताया दुख

हिमाचल प्रदेश के कुल्लू में गहरे नाले में गिरी बस.

शिमला:

हिमाचल प्रदेश के कुल्लू जिले में एक बस के गहरे नाले में गिर जाने से 44 लोगों की मौत हो गई और 30 से अधिक घायल हो गए हैं. कुल्लू की पुलिस अधीक्षक शालिनी अग्निहोत्री ने कहा कि निजी बस जिले की बंजार तहसील में धोथ मोड़ के पास 300 मीटर गहरे नाले में गिर गई. बस में क्षमता से अधिक यात्री सवार थे. बंजार पटवारी शीतल कुमार ने बताया कि शुरुआती जांच में पता चला है कि यह बस अपनी क्षमता से अधिक यात्रियों को ढो रही थी और उसके चालक ने ध्यान से गाड़ी नहीं चलाई. बस कुल्लु से गड़ गुशानी जा रही थी.
 


घटना की पीएम मोदी, हिमाचल प्रदेश के राज्यपाल आचार्य देवव्रत, प्रदेश के मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर और कांग्रेस अध्यक्ष ने भी इस दुखद दुर्घटना पर दुख प्रकट किया है. प्रधानमंत्री कार्यालय ने ट्वीट किया, 'कुल्लू में हुई सड़क दुर्घटना से बेहद दुखी हूं. इस दुर्घटना में मारे गए लोगों के परिवारों के प्रति संवेदना. मैं घायलों के जल्द से जल्द ठीक होने की कामना करता हूं. हिमाचल प्रदेश सरकार सभी संभव सहायता मुहैया करा रही है.'

अधिकारियों ने बताया कि ठाकुर ने इस मामले की जांच के आदेश दे दिए हैं. घायलों का बंजार सिविल अस्पताल और कुल्लु जिला अस्पताल में इलाज चल रहा है और आशंका है कि मरने वालों का आंकड़ा और बढ़ सकता है. कुल्लु जिला प्रशासन ने प्रत्येक मृतक एवं घायल के निकटतम परिजन को 50 हजार रुपये की राहत राशि देने का ऐलान किया है.

राहुल गांधी ने ट्वीट कर कहा, 'हिमाचल प्रदेश के कुल्लू में हुई बस दुर्घटना दुखद है. इस दुर्घटना में मारे गए लोगों के परिवारों के प्रति मेरी गहरी संवेदना है और घायलों के जल्द स्वस्थ होने की कामना करता हूं. मैं इस क्षेत्र के कांग्रेस पार्टी के कार्यकर्ताओं से पीड़ितों की मदद करने का अनुरोध करता हूं.'


'सेव लाइफ फाउंडेशन' ने मीडिया रिपोर्ट्स के आंकड़ों के अनुसार बताया कि हिमाचल में 2018 में 106 सड़क हादसे रिपोर्ट किए गए हैं. वहीं, 2018 में इन हादसों में 743, 2017 में 344 और 2016 में 484 लोगों की जान गई है. दूसरी तरफ 2018 में ऐसे हादसों में 1786, 2017 में 1248 और 2016 में 1063 लोग घायल हुए हैं.

हिमाचल प्रदेश के ट्रांसपोर्ट मिनिस्टर गोविंद सिंह ठाकुर ने कुल्लू बस हादसे को लेकर कहा है कि 'पता चला है कि बस ओवरलोडेड थी. बचाव कार्य शुक्रवार को भी जारी रहेगा. आज मुख्यमंत्री भी घटनास्थल का दौरा करेंगे. घटना का मजिस्ट्रियल जांच के आदेश दे दिए गए हैं.'

टिप्पणियां

बता दें कि झुलसाने वाली गर्मी से बचने के लिए हजारों लोग हिमाचल प्रदेश की ठंडी व शांत वादियों की ओर रुख कर रहे हैं. हिमाचल कि बर्फीले प्राकृतिक दृश्यों वाले शिमला, नरकंडा, कल्पा, धर्मशाला, पालमपुर, कुल्लू और मनाली जैसे शहरों में उत्तरी भारत से बड़ी संख्या में लोग छुट्टियां मनाने जा रहे हैं. मनाली में प्रतिदिन आने वाले पर्यटकों की औसतन संख्या 20-30 हजार के आसपास है. सप्ताहांत में यह संख्या 40 हजार से भी अधिक होती है.' वहीं, कुल्लू जिले की 13,050 फीट की ऊंचाई पर स्थित रोहतांग पास के खुलने की वजह से पर्यटकों की संख्या में और भी बढ़ोतरी हुई है. खबरों के अनुसार, बीते साल के मुकाबले राज्य में पर्यटकों का आगमन करीब 40 से 45 प्रतिशत बढ़ा है.

VIDEO: खाई में गिरी बस



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement