NDTV Khabar

गुरमीत राम रहीम के डेरा मुख्यालय से 6 से 20 साल की 18 लड़कियां छुड़ाई गईं

गुरमीत राम रहीम के डेरा मुख्यालय से 18 लड़कियों को छुड़ाया गया है. इनकी उम्र 6 से 20 साल है. ये लड़कियां अनाथ हैं और यहां रहकर पढ़ाई कर रही थीं.

839 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
गुरमीत राम रहीम के डेरा मुख्यालय से 6 से 20 साल की 18 लड़कियां छुड़ाई गईं

गुरमीत राम रहीम (फाइल फोटो)

सिरसा: गुरमीत राम रहीम के डेरा मुख्यालय से 18 लड़कियों को छुड़ाया गया है. इनकी उम्र 6 से 20 साल है. ये लड़कियां अनाथ हैं और यहां रहकर पढ़ाई कर रही थीं. इन्हें मेडिकल जांच के लिए भेजा गया है. वहीं आज पूरे हरियाणा में 6 दिन से बंद इंटरनेट सेवा बहाल कर दी गई है. हिंसा के चलते कई इलाकों में सेवा बंद थी.

पढ़ें: जूनियर इंजीनियर की नौकरी छोड़ रामपाल बन गए थे 'बाबा'

सिरसा में कर्फ्यू में ढील
सिरसा में स्थिति सामान्य रहने के मद्देनजर मंगलवार सुबह 7 बजे से शाम 7 बजे तक कर्फ्यू में 12 घंटे की ढील दी गई है. यहां स्कूल और कॉलेज भी खुले रहेंगे. सिरसा शहर में ही डेरा मुख्यालय है. सोमवार को पूरे दिन सिरसा में कर्फ्यू लगा रहा और सजा के ऐलान से पहले पुलिस, अर्धसैनिक बलों और सेना की करीब 40 बटालियन ने अपना सुरक्षा घेरा कड़ा कर लिया, ताकि कोई भी किसी तरह का उत्पात न मचा सके. लेकिन सजा सुनाए जाने से ठीक पहले यानी करीब पौने दो बजे डेरे से छह किमी दूर गुरमीत के समर्थकों ने अपनी ही लग्जरी गाड़ी टोयोटा लेक्सस में आग लगा दी.

गुरमीत राम रहीम को 20 साल की सजा
गौरतलब है कि दो शिष्याओं के साथ 18 साल पहले दुष्कर्म करने और आपराधिक धमकी देने के अपराध में डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम सिंह को सोमवार को 20 साल जेल की सजा सुनाई गई और 30 लाख रुपये का जुर्माना लगाया गया है. डेरा प्रमुख को दुष्कर्म के दोनों मामलों में 10-10 साल जेल की सजा सुनाई गई है. रोहतक के सुनारिया जिला जेल के पुस्तकालय में ही लगाई गई सीबीआई की विशेष अदालत द्वारा सजा सुनाए जाने के बाद राम रहीम के वकील एसके गर्ग नरवाना ने कहा कि दोनों ही सजा बारी-बारी से भुगतनी होंगी. सजा कम कराने के लिए राम रहीम ने बीमारी का भी बहाना बनाया लेकिन वह काम न आया. मेडिकल टीम ने उसे फिट पाया. 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement