NDTV Khabar

1984 सिख दंगा मामला : एसआईटी ने 1,000 से ज्‍यादा गवाहों से पूछताछ की...

गृह राज्य मंत्री हंसराज अहीर ने बताया कि जांच के दौरान देश के विभिन्न इलाकों में 1,000 से अधिक गवाहों से पूछताछ की गई है.

5 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
1984 सिख दंगा मामला :  एसआईटी ने 1,000 से ज्‍यादा गवाहों से पूछताछ की...

फाइल फोटो...

खास बातें

  1. SIT ने कई राज्यों में 1,000 से ज्यादा गवाहों से पूछताछ पूरी की.
  2. राज्य सभा में बुधवार को गृह राज्य मंत्री हंसराज अहीर ने दी जानकारी.
  3. मंत्री ने लिखित जवाब में कहा कि 293 मामलों की पड़ताल की जा चुकी है.
नई दिल्‍ली: केंद्र सरकार ने 1984 के सिख दंगा मामलों की जांच के लिए गठित विशेष जांच दल (एसआईटी) द्वारा विभिन्न राज्यों में 1,000 से ज्यादा गवाहों से पूछताछ पूरी कर लेने की जानकारी दी है.

राज्य सभा में बुधवार को गृह राज्य मंत्री हंसराज अहीर ने सिख दंगों से जुड़े बंद कर दिए मामलों की पुन: जांच के लिए गठित एसआईटी की जांच पूरी होने के बारे में पूछे गए एक सवाल के लिखित जवाब में कहा कि 293 मामलों की पड़ताल की जा चुकी है.

इनमें से 60 मामलों की जांच फिर से शुरु की गई है. जांच के लिए दोबारा खोले गए 60 मामलों में से 4 में आरोप पत्र दायर किया गया है, जबकि अगले चरणों की जांच के बाद 51 मामले बंद कर दिए गए हैं और पांच मामलों में आगे की जांच चल रही है.

यह भी पढ़ें... 
दिल्ली : 1984 सिख विरोधी दंगा पीड़ितों को राहत, 2,000 परिवारों के बिजली बिल माफ...
1984 सिख विरोधी दंगा मामला : केंद्र सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में 199 केसों की फाइल पेश की
'84 का सिख-विरोधी दंगा : कानपुर में हुई मौतों की जांच एसआईटी से कराने की मांग
दिल्ली: गुरुद्वारा रकाबगंज में सिख मेमोरियल बनाया गया, पंजाब चुनावों से ऐन पहले हुआ उद्घाटन

अहीर ने बताया कि जांच के दौरान देश के विभिन्न इलाकों में 1,000 से अधिक गवाहों से पूछताछ की गई है. जांच में देरी के आरोप से इंकार करते हुए अहीर ने कहा कि इन मामलों से जुड़े रिकॉर्ड बहुत पुराने और खराब स्थिति में होने के अलावा उर्दू भाषा में होने के कारण इनका अनुवाद भी कराया जा रहा है. उन्होंने कहा कि शिकायतकर्ताओं और गवाहों की पहचान में कठिनाई के कारण जांच लंबित है. उन्होंने कहा कि गृह मंत्रालय एसआईटी के कार्य की प्रगति की नियमित निगरानी की जा रही है.



(इनपुट भाषा से)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement