अखबारों में आज की सुर्खियां : अयोध्‍या मामले में सुप्रीम कोर्ट का फैसला | लाल बत्‍ती पर लगी लगाम

अखबारों में आज की सुर्खियां : अयोध्‍या मामले में सुप्रीम कोर्ट का फैसला | लाल बत्‍ती पर लगी लगाम

नई दिल्ली:

20 अप्रैल को प्रमुख हिंदी अखबारों के राजधानी संस्‍करणों में अयोध्‍या मामले पर सुप्रीम कोर्ट के अहम फैसले को लीड बनाया गया है. दैनिक जागरण ने इसको पैकेज का हिस्‍सा बनाते हुए लीड शीर्षक दिया है-'आडवाणी, जोशी, उमा पर चलेगा केस'. स्‍लग देते हुए अखबार ने लिखा है कि अयोध्‍या मामले में हाई कोर्ट के फैसले को सुप्रीम कोर्ट ने रद किया, मुकदमा लखनऊ की कोर्ट में ट्रांसफर. अखबार में उमा भारती की टिप्‍पणी को भी प्रमुखता से उभारा गया है. जिसमें उमा भारती ने कहा है कि खुल्‍लम खुल्‍ला था सब कुछ कोई साजिश नहीं हुई. इसके साथ ही अखबार ने मोदी सरकार के एक मई से लाल बत्‍ती के वीआईपी कल्‍चर को बंद किए जाने के फैसले को प्रमुखता से प्रकाशित किया है. अखबार ने एंकर में बढ़ती गर्मी पर विशेष पैकेज पेश किया है. इसके तहत शीर्षक लगाया गया है-'पारे का अगला रिकॉर्ड तोड़ेगा 72 साल का रिकॉर्ड.' नोएडा की कंपनी में आग को भी प्रमुखता से परोसा गया है.

दूसरे प्रमुख समाचार पत्र हिंदुस्‍तान की अयोध्‍या मामले से संबंधित लीड है-आडवाणी समेत 13 पर केस चलेगा. इसकी भी दूसरी बड़ी खबर है कि माननीय बिना लाल बत्‍ती के चलेंगे. नोएडा की कंपनी में आग लगने की खबर को इसने भी प्रमुखता से प्रकाशित किया है. इस घटना में छह लोग जिंदा जले हैं. जागरण ने हालांकि अपने शीर्षक में उभारा है कि दो मैनेजरों समेत छह की मौत हुई है. इस अखबार ने सोनू निगम से संबंधित विवाद को पहले पन्‍ने का एंकर बनाया है. इसके तहत अखबार ने हेडलाइन दी है- 'सोनू निगम ने फतवे के खिलाफ अपना सिर मुंड़वाया.'

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com