उपवास पर राज्यसभा के उप सभापति, राष्ट्रपति को लिखे खत में बोले- 'बहुत दुखी हूं, पूरी रात सो नहीं पाया'

एक तरफ कृषि विधेयक पर विरोध के दौरान निलंबित सांसद संसद में धरना प्रदर्शन कर रहे हैं तो वहीं दूसरी तरफ राज्यसभा के उपसभापति हरिवंश ने इस पूरे प्रकरण को देखते हुए 24 घंटे उपवास पर रहने का फैसला किया है.

उपवास पर राज्यसभा के उप सभापति, राष्ट्रपति को लिखे खत में बोले- 'बहुत दुखी हूं, पूरी रात सो नहीं पाया'

उपसभापति उपवास के दौरान सदन का काम काज करते रहेंगे

नई दिल्ली:

एक तरफ कृषि विधेयक (Farm Bill) पर विरोध के दौरान निलंबित सांसद संसद में धरना प्रदर्शन कर रहे हैं तो वहीं दूसरी तरफ राज्यसभा के उपसभापति हरिवंश (Harivansh) ने इस पूरे प्रकरण को देखते हुए 24 घंटे उपवास पर रहने का फैसला किया है. उन्होंने उपराष्ट्रपति वैंकेया नायडू को पत्र लिख पूरे मामले पर अपनी वेदना व्यक्त करते हुए कहा कि वह अगले 24 घंटे उपवास पर रहेंगे. उपवास आज सुबह से शुरू होकर कल सुबह तक जारी रहेगा. इस दौरान वह संसद का कामकाज जारी रखेंगे. 
 

अपने पत्र में उपसभापति ने लिखा कि राज्यसभा में जो कुछ हुआ उससे बहुत पीड़ा में हूं, वेदना के कारण रात भर सो नहीं पाया. तीन पन्ने की चिट्ठी में उन्होंने लिखा कि उच्च सदन की मर्य़ादिट पीठ पर मेरे साथ जो अपमानजनक व्यवहार हुआ, उसके लिए मुझे एक दिन का उपवास करना चाहिए. शायद मेरे उपवास से इस तरह का आचरण करने वाले माननीय सदस्यों के अंदर आत्मशुद्धी का भाव जागृत हो. 

वहीं इससे पहले आज सुबह राज्यसभा के उप सभापति हरिवंश (Harivansh) प्रदर्शन कर रहे निलंबित सांसदों के लिए चाय लेकर पहुंचे थे लेकिन निलंबित सांसदों ने उप-सभापति की चाय पीने से इनकार कर दिया. उन्होंने कहा कि हम यहां किसानों के लिए बैठे हैं. उन्होंने कहा कि नियमों को ताक पर रखकर किसान विरोधी बिल पास कराया गया जबकि बीजेपी के पास बहुमत नहीं था. आपने कोशिश नहीं की. हम संसद परिसर में बैठे हैं क्योंकि किसानों के साथ धोखा हुआ है. 

READ ALSO: राज्यसभा से निलंबन का रिकॉर्ड राजनारायण के नाम, दूसरे नंबर पर गोडे मुरहरि

बताते चलें कि निलंबन के विरोध में सोमवार को तृणमूल कांग्रेस के डेरेक ओ ब्रायन, आम आदमी पार्टी के संजय सिंह, कांग्रेस के राजीव साटव और सीपीएम के के.के. रगेश समेत निलंबित सांसद राज्यसभा से निकलने के बाद संसद के लॉन में प्रदर्शन पर बैठ गए. सोमवार को शुरू हुआ प्रदर्शन अभी तक जारी है, कुछ सांसदों तकिये और चादर साथ लेकर आए थे तो कुछ लोगों ने इन्हें घर से मंगा लिया. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

वीडियो: निलंबित सांसदों का संसद परिसर में रात को भी धरना