NDTV Khabar

मध्यप्रदेश में स्वाइन फ्लू से 28 की मौत, मंत्रीजी बोले-दवाई छोड़ लोगों को भजन करना चाहिये 

मध्यप्रदेश में स्वाइन फ्लू पीड़ितों की संख्या लगातार बढ़ रही है. नीमच और भोपाल में 2 और मरीज़ों की मौत के साथ अबतक पूरे राज्य में 28 लोग स्वाइन फ्लू की वजह से दम तोड़ चुके हैं.

7.8K Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
मध्यप्रदेश में स्वाइन फ्लू से 28 की मौत, मंत्रीजी बोले-दवाई छोड़ लोगों को भजन करना चाहिये 

शरद जैन, मध्यप्रदेश के स्वास्थ्य राज्य मंत्री

खास बातें

  1. स्वास्थ्य राज्यमंत्री ने कहा जीवन और मौत भगवान के हाथ
  2. लोगों को दवाई लेने के बजाय भागवत भजन करना चाहिए
  3. राज्य में अब तक स्वाइन फ्लू के 113 मरीजों की पुष्टि
भोपाल: मध्यप्रदेश में स्वाइन फ्लू पीड़ितों की संख्या लगातार बढ़ रही है. नीमच और भोपाल में 2 और मरीज़ों की मौत के साथ अबतक पूरे राज्य में 28 लोग स्वाइन फ्लू की वजह से दम तोड़ चुके हैं. इन सबके बीच स्वास्थ्य राज्यमंत्री का मानना जीवन-मृत्यु भगवान के हाथ में है. शुक्रवार को 8 दिनों तक चले इलाज के बाद केसरपुरा के जगदीशचंद्र धाकड़ स्वाइन फ्लू से ज़िंदगी की जंग हार गए. कटनी में 52 साल के राजेन्द्र गुप्ता और बुरहानपुर में 35 साल के संजय नत्थु भंवरे को भी स्वाइन फ्लू ने अपना शिकार बनाया. बावजूद इसके स्वास्थ्य मंत्री शरद जैन को लगता है, सरकार पूरा काम कर रही है. मरीज़ों की मौत भगवान चाहें तभी रूक सकती है, जैन ने कहा हम अंतिम सांस तक मरीज की सेवा के लिए तैयार हैं.

यह भी पढ़ें : ईद पर गले नहीं मिल पाएंगे नमाज़ी, जारी हुआ फरमान...

मेडिकल कॉलेज में अतिरिक्त दवाइयों की व्यवस्था
सरकार ने स्वाइन फ्लू को काबू करने के लिए अस्पताल और मेडिकल कॉलेज में अतिरिक्त दवाइयों की व्यवस्था की है, लेकिन मौत की बात हमारे बस की नहीं यह तो 'भगवानदास' के हाथ में है. ऐसे में लगता है लाइन में लगे मरीज़ों एमबीबीएस डिग्रीधारी शायद फिज़ूल में दवा लेने की सलाह दे रहे हैं. जेपी अस्पताल के सीएमओ डॉ सुधीर जसानी ने बताया कि वहां स्वाइन फ्लू के मरीज़ों को ए,बी,सी श्रेणी में रखा जा रहा है. बी और सी कैटगरी के लिए जांच रिपोर्ट आए बग़ैर भी वो टैमीफ्लू देना शुरू कर देते हैं. लेकिन मंत्रीजी की सलाह मानें तो यह सब छोड़ लोगों को बचाने के लिए भगवत भजन करना चाहिये. 

यह भी पढ़ें : उत्तर प्रदेश में स्वाइन फ्लू पर एडवाइजरी जारी, स्कूलों में प्रार्थना सभा पर रोक के निर्देश

VIDEO: मध्यप्रदेश में भी स्वाइन फ्लू का कहर, अब तक 28 की मौत

मध्यप्रदेश में 113 मरीजों में स्वाइन फ्लू की पुष्टि
कांग्रेस के प्रवक्ता पंकज चतुर्वेदी ने मंत्रीजी के बयान पर कहा यह बड़ा दुर्भाग्य है कि राज्य के मंत्री लोगों की सेहत को भगवान भरोसे छोड़ते हैं. ऐसे में क्या वो कुर्सी पर जनता के धन की बर्बादी करने बैठते हैं. मध्यप्रदेश में अबतक 582 संदिग्ध मरीजों का परीक्षण किया गया है. इनमें 113 में स्वाइन फ्लू की पुष्टि हुई है. 14 मरीज़ों का सरकारी और 21 का निजी अस्पतालों में इलाज चल रहा है. राज्य के 14 जिलों में एच1एन1 के संदिग्ध मरीज मिले हैं. राज्य में 51 ज़िलों में 65 निजी और 50 सरकारी अस्पताल ही स्वाइन फ्लू से लड़ने की ताकत रखते हैं, लेकिन इनमें से ज्यादातर राजधानी भोपाल और इंदौर में हैं. ऐसे में दूर दराज के मरीज़ वैसे भी भगवान भरोसे ही हैं. 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement