नये स्लोगन के साथ चुनावी मोड में बीजेपी, 2014 की तर्ज पर 2019 के लिए दिया यह नया नारा

मोदी सरकार के चार साल पूरे होते ही बीजेपी एक बार फिर से 2019 लोकसभा चुनाव के मद्देनजर चुनावी मोड में आ गई है.

नये स्लोगन के साथ चुनावी मोड में बीजेपी, 2014 की तर्ज पर 2019 के लिए दिया यह नया नारा

पीएम मोदी (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

मोदी सरकार के चार साल पूरे होते ही बीजेपी एक बार फिर से 2019 लोकसभा चुनाव के मद्देनजर चुनावी मोड में आ गई है. अगले साल होने वाले लोकसभा चुनाव के लिए पार्टी ने अब तैयारियां शुरू कर दी और मोदी सरकार के अब तक की उपलब्धियों को जनता के बीच प्रचार करने का काम भी शुरू कर चुकी है. बता दें कि 26 मई को मोदी सरकार के चार साल पूरे हो रहे हैं. 2019 लोकसभा चुनाव के लिए बीजेपी उपलब्धियों की लिस्ट के साथ-साथ एक नए स्लोगन के साथ मैदान में उतरने की तैयारी कर रही है. बीजेपी ने 2019 के लिए अपना चुनावी अभियान शुरू कर दिया है. बीजेपी ने सरकार की चार साल की उपलब्धियों पर एक वीडियो जारी किया है, जिसमें विभिन्न योजनाओं और उनसे मिले लोगों को फायदे के बारे में दिखाया गया है. 

मोदी सरकार के चार साल : 10 नाकामियां, जो बीजेपी सरकार की उपलब्धियों की चमक फीकी करती हैं

लोकसभा चुनाव को ध्यान में रखते हुए बीजेपी ने एक नया स्लोगन ईजाद किया है. अब लोगों के बीच एक बार फिर से पैठ कायम करने के लिए बीजेपी ने एक नया नारा भी दिया है 'साफ़ नीयत, सही विकास'. वीडियो के आखिर में कहा जाता है कि 2019 में एक बार फिर मोदी सरकार.  बताया जा रहा है कि पार्टी देश भर के संपादकों, और रेडियो जॉकी से भी संपर्क साध रही है.

तीन मिनट के वीडियो में यह दिखाने की कोशिश की गई है कि कैसे सरकार की विभिन्न योजनाओं और फैसलों से लोगों की जीवनशैली में सुधार हुआ है और कैसे लोगों को सरकारी योजनाओं का फायदा मिल रहा है. 2014 में प्रचलित बीजेपी के स्लोगन अबकी बार मोदी सरकार की तर्ज पर ही 2019 के लोकसभा चुनाव के लिए भी एक नया स्लोगन दिया गया है- 2019 में फिर मोदी सरकार. 

मोदी सरकार के चार साल : आठ योजनाएं, जिनका जनता पर हुआ असर

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

बता दें कि पीएम नरेंद्र मोदी शनिवार को ओडिशा के कटक जाएंगे, जहां वह एक जनसभा को संबोधित करेंगे और अपनी सरकार की उपलब्धियों का बखान करेंगे. बता दें कि ओडिशा की अहमियत का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि लोकसभा में 21 सांसद देने वाले ओडिशा से बीजेपी के महज एक ही सांसद आते हैं. बीजेपी का मानना है कि 2019 लोकसभा चुनाव से पहले अपने प्रदर्शन में सुधार कर लेगी. वहीं, दिल्ली में बीजेपी के अमित शाह पर मोदी सरकार के चार साल की उपलब्धियों को बताने की जिम्मेवारी होगी. 

VIDEO: 2019 लोकसभा चुनाव के लिए बीजेपी ने फूंका बिगुल