निजामुद्दीन मरकज़ से निकाले गए लोगों में से 441 में Coronavirus से लक्षण: अरविंद केजरीवाल

केजरीवाल ने कहा- हमने 97 मामलों का आकलन करके समझना चाहा कि कहीं कोरोना वायरस फैल तो नहीं रहा, इन मामलों में से 24 मामले मरकज के

निजामुद्दीन मरकज़ से निकाले गए लोगों में से 441 में Coronavirus से लक्षण: अरविंद केजरीवाल

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने डिजिटल प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित किया.

खास बातें

  • अरविंद केजरीवाल ने कहा- FIR के लिए निर्देश दे दिए गए हैं
  • एलजी जल्दी कार्रवाई करेंगे, किसी भी अफसर को बख्शा नहीं जाएगा
  • कहा- कल से 10 से 12 लाख लोगों को खाना खिलाया जाएगा
नई दिल्ली:

Coronavirus: दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने आज कहा कि ''निजामुद्दीन मरकज में से जिन लोगों को निकाला गया है उनमें से बहुत सारे मामले पॉजिटिव सामने आ सकते हैं. मरकज में 12-13 मार्च के आसपास एक फंक्शन के लिए लोग इकट्ठे हुए थे. काफी लोग चले गए थे, कुछ लोग रुक गए थे.  यहां 24 केस पॉजिटिव मिले हैं. वहां से 1548 लोगों को निकाला गया. उनमें से 441 लोगों में कोरोना के लक्षण थे. उनको अस्पताल में पहुंचाया गया है. कुल 1107 को क्वारन्टीन में भेज दिया गया है.'' केजरीवाल ने कोरोना वायरस (Coronavirus) संक्रमण को लेकर दिल्ली के मौजूदा हालात पर प्रेस से बात की.  

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने मंगलवार को डिजिटल प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित किया. केजरीवाल ने कहा कि ''दिल्ली में अभी तक कोरोना वायरस संक्रमण के कुल 97 मामले सामने आए हैं. इनमें से 5 लोग ठीक हो गए हैं. दो की मौत हो गई है और 89 का उपचार चल रहा है. केवल एक व्यक्ति वेंटीलेटर पर है और दो को ऑक्सीजन लगाई गई है.''

उन्होंने कहा कि ''हमने 97 मामलों का आकलन करके समझना चाहा कि कहीं कोरोना वायरस फैल तो नहीं रहा. इन 97 मामलों में से 24 मामले मरकज के हैं. उन्होंने कहा कि लोकल ट्रांसमिशन कंट्रोल में है. कम्युनिटी ट्रांसमिशन अभी नहीं है.'' उन्होंने कहा कि ''मरकज में से जिन लोगों को निकाला गया है उनमें से बहुत सारे मामले पॉजिटिव सामने आ सकते हैं. मरकज में 12-13 मार्च के आसपास एक फंक्शन के लिए लोग इकट्ठे हुए थे. काफी लोग चले गए थे, कुछ लोग रुक गए थे.  यहां 24 केस पॉजिटिव मिले हैं. वहां से 1548 लोगों को निकाला गया. उनमें से 441 लोगों में कोरोना के लक्षण थे. उनको अस्पताल में पहुंचाया गया है. कुल 1107 को क्वारन्टीन में भेज दिया गया है.''

अरविंद केजरीवाल ने कहा कि ''दुनिया भर में लोग मर रहे हैं और ऐसे में हम लोग ऐसी गैर जिम्मेदाराना हरकत कर रहे हैं कि लोग इकट्ठे हो रहे हैं. सारे धार्मिक स्थल खाली पड़े हैं. ऐसे में इतनी बड़ी गैदरिंग करना बिल्कुल गलत था. यहां से बहुत सारे लोग निकलकर देश के अलग-अलग हिस्सों में पहुंच गए और किन-किन लोगों को इससे नुकसान पहुंच चुका होगा यह सोचकर भी डर लग रहा है. सभी धार्मिक नेताओं से अपील है कि ऐसा मत कीजिए. चाहे आप किसी भी धर्म के हों, हर इंसान की जिंदगी प्यारी है.''

केजरीवाल ने कहा कि FIR के लिए निर्देश दे दिए गए हैं. उम्मीद है एलजी जल्दी कार्रवाई करेंगे. किसी भी अफसर को बख्शा नहीं जाएगा. उन्होंने कहा कि यहां से निकलकर तेलंगाना जो लोग पहुंचे उनकी मौत हो गई. सरकार को सख्त कार्रवाई करनी ही पड़ेगी.

उन्होंने कहा कि ''दुकानों में जो राशन बंट रहा है उसमें भारी संख्या में लोग आकर राशन ले रहे हैं. लोग चिंता ना करें हम राशन रोजाना केंद्र सरकार से उठा रहे हैं, और आपको दे रहे हैं. राशन कार्ड वाले को राशन मिलेगा, मैं जिम्मेदारी लेता हूं. आज राशन खत्म हो गया तो चिंता मत करना, कल आ जाएगा, परसों आ जाएगा. जिनके पास राशन कार्ड नहीं है उनके लिए भी राशन का इंतजाम किया जा रहा है. थोड़ा समय लग रहा है व्यवस्था बनाने में.''

केजरीवाल ने कहा कि ''800 जगहों पर अभी खाना खिला रहे हैं. कल से 2500 स्कूल, 250 रैन बसेरों में खाने का इंतज़ाम होगा. अभी करीब 3.5 से 5 लाख लोगों को खाना खिला रहे हैं. कल से 10 से 12 लाख लोगों को खाना खिलाएंगे. उन्होंने कहा कि जो लोग मुख्यमंत्री राहत कोष में पैसा देना चाहते हैं उनका स्वागत है. लेकिन अगर आप सीधे PPE दे दे सकते हैं, वेंटीलेटर दे सकते हैं या टेस्टिंग किट दे सकते हैं तो ज़रूर दें. हमें बहुत जरूरत है.''

VIDEO : निजामुद्दीन मरकज में करीब 300 कोरोना संदिग्ध

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com