NDTV Khabar

ITBP को मिले 45 नये अधिकारी, मसूरी अकादमी से हुए हैं पास आउट

1962 में स्थापना के बाद से आइटीबीपी मूलतः भारत चीन सीमा की सरहदों की चौकसी में तैनात है. 

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
ITBP को मिले 45 नये अधिकारी, मसूरी अकादमी से हुए हैं पास आउट

आईटीबीपी प्रशिक्षण अकादमी मसूरी में पासिंग आउट परेड के दौरान प्रशिक्षु.

खास बातें

  1. आईटीबीपी को मिले 45 नए अधिकारी
  2. मसूरी अकादमी से हुए हैं पास
  3. 45 अधिकारियों में 3 महिलाएं भी शामिल
देहरादून:

भारत-तिब्बत सीमा पुलिस (आईटीबीपी) अकादमी मसूरी में पासिंग आउट परेड का सोमवार कोआयोजन किया गया. इसमें 11 वें सहायक सेनानी एलडीसी कोर्स के कुल 45 प्रशिक्षुओं ने प्रशिक्षण पूरा कर के बल की मुख्यधारा में कदम रखा. इन 45 नये अधिकारियों में तीन महिलाएं भी शामिल हैं. इन अधिकारियों को छह महीने से भी ज्यादा समय तक प्रशिक्षण की कई विधाओं में पारंगत बनाया गया है. आईटीबीपी के डीजी एसएस देसवाल ने परेड की सलामी ली और नये अधिकारियों को संबोधित करते हुए उन्हें देश में आइटीबीपी के सुरक्षा दायित्व के लिए तैयार होने और देश सेवा में पहला कदम रखने के लिए इन्हें शुभकामनाएं दीं.

इस मौके पर मसूरी प्रशासन और स्थानीय जन सामान्य के अलावा इन अधिकारियों के परिजन भी बड़ी संख्या में उपस्थित रहे . 
 

cuk0orj

यह भी पढ़ें: 20 हजार फुट की ऊंचाई पर शुरु हुआ ITBP का सबसे खतरनाक रेस्क्यू मिशन


टिप्पणियां

आइटीबीपी अकादमी में बल के नए भर्ती हुए अधिकारियों को आधार और विशेष प्रशिक्षण देकर भविष्य की चुनौतियों के लिए तैयार किया जाता है . अकादमी के निदेशक श्री पी एस पापटा आईजी ने इस मौके पर डीजी आइटीबीपी का स्वागत करते हुए कहा कि आईटीबीपी अकादमी ने पिछले लगभग 40 वर्षों में हज़ारों अधिकारी प्रशिक्षित किये हैं और यह यहां के प्रशिक्षण के कठिन परिश्रम का ही फल है कि बल कठिन से कठिन धरातलीय परिस्थितियों और मौसमी प्रतिकूलताओं के बावजूद सुदृढ़ता के साथ देश की विषम हिमालय सीमाओं और अन्य आंतरिक सुरक्षा ड्यूटी में विशेष तौर पर खरा उतरा है. 

 बता दें 1962 में स्थापना के बाद से आइटीबीपी मूलतः भारत चीन सीमा की सरहदों की चौकसी में तैनात है. 



NDTV.in पर विधानसभा चुनाव 2019 (Assembly Elections 2019) के तहत हरियाणा (Haryana) एवं महाराष्ट्र (Maharashtra) में होने जा रहे चुनाव से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरें (Election News in Hindi), LIVE TV कवरेज, वीडियो, फोटो गैलरी तथा अन्य हिन्दी अपडेट (Hindi News) हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement