NDTV Khabar

लापरवाही : बिना इंजन 2 किलोमीटर तक दौड़े कोयले से लदी मालगाड़ी के 6 डिब्बे

इस बार कोयले से लदी मालगाड़ी के छह डिब्बे बिना इंजन के 2 किलोमीटर तक पटरी पर चलते रहे.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
लापरवाही : बिना इंजन 2 किलोमीटर तक दौड़े कोयले से लदी मालगाड़ी के 6 डिब्बे

प्रतीकात्मक फोटो.

बालेश्वर (ओडिशा) : हाल ही में उड़ीसा के भुवनेश्वर में एक ट्रेन बिना इंजन के 10 किलोमीटर तक पटरी पर दौड़ी थी. इसके बाद एक ऐसा ही मामला फिर सामने आया है. हालांकि इस बार कोयले से लदी मालगाड़ी के छह डिब्बे बिना इंजन के 2 किलोमीटर तक दौड़ती रही.

यह भी पढ़ें : VIDEO: बिना इंजन के 10 किलोमीटर तक दौड़ी ट्रेन, अंदर अटकी रहीं यात्रियो की सांसें

रेलवे के एक अधिकारी ने बताया कि घटना शनिवार रात खांटापाड़ा और भानगा के बीच उस वक्त हुई जब धमारा से जमशेदपुर जा रही मालगाड़ी के छह डिब्बों को बाकी ट्रेन से अलग किया गया. इसके बाद छह डिब्बे बिना इंजन के चलने लगे.

यह भी पढ़ें :  जब बिना ड्राइवर के दौड़ा ट्रेन का इंजन, बाइक से 13KM पीछा कर रोका

उन्होंने बताया कि घटना के बारे में तुरंत पता चल जाने और रेलवे अधिकारियों के तुरंत कदम उठाने पर पर हादसा टल गया और कोई घायल नहीं हुआ. बालेश्वर रेलवे स्टेशन के स्टेशन प्रबंधक भगवत दास ने बताया, 'कुछ यांत्रिक गड़बड़ी के कारण पिछले छह डिब्बों को ट्रेन से अलग किया गया. गड़बड़ी को तुरंत दूर कर लिया गया.  

टिप्पणियां
ऐहतियाती तौर पर लाइन पर करीब दो घंटे तक ट्रेनों का आवागमन नियंत्रित किया गया. दास ने बताया कि अलग हुए डिब्बों को लाने और ट्रेन में उन्हें जोड़ने के लिए एक इंजन भेजा गया. इससे पहले, 7 अप्रैल की रात अहमदाबाद-पुरी एक्सप्रेस की 22 बोगियां बोलांगीर जिले में टिटिलागढ़ से कालाहांडी जिले के केसिंगा के बीच 13 किलोमीटर तक बिना इंजन के चलती रहीं. घटना के वक्त ट्रेन में सैकड़ों लोग सवार थे. 

(इनपुट : भाषा)
 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement