Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

पीएम मोदी की पहली कैबिनेट बैठक में बनाई गई SIT ने अब तक 70,000 करोड़ के कालेधन का पता लगाया

पीएम मोदी की पहली कैबिनेट बैठक में बनाई गई SIT ने अब तक 70,000 करोड़ के कालेधन का पता लगाया

एसआईटी ने कालेधन का पता लगाया...

खास बातें

  • इस पर छठी रिपोर्ट अप्रैल में शीर्ष अदालत (सुप्रीम कोर्ट) को सौंपी जाएगी.
  • कई आला अधिकारियों के साथ बैठक के बाद जस्टिस पसायत ने दी जानकारी.
  • एसआईटी की कई सिफारिशों को सरकार द्वारा मान भी लिया गया- जस्टिस पसायत
कटक:

कालेधन की जांच के लिए गठित विशेष जांच दल (एसआईटी) के उप प्रमुख जस्टिस अरिजीत पसायत ने इसका खुलासा किया है कि अभी तक 70,000 हजार करोड़ रुपये की ब्‍लैक मनी का पता लगाया जा चुका है और इस पर छठी रिपोर्ट अप्रैल में शीर्ष अदालत (सुप्रीम कोर्ट) को सौंपी जाएगी. गौरतलब है कि यह एसआईटी पीएम नरेंद्र मोदी ने अपनी पहली कैबिनेट की बैठक में बनाई थी.

उन्‍होंने गुरुवार को कहा कि 70 हजार करोड़ रुपये का कालाधन, जिनमें भारतीयों द्वारा विदेशों में छिपाए गए 16,000 हजार करोड़ रुपये शामिल हैं, का पता लगाया गया.

आर्थिक और वित्तीय मामलों पर काम करने वाली कई सरकारी एजेंसियों के अधिकारियों के साथ बैठक के बाद जस्टिस पसायत ने जानकारी देते हुए कहा कि एसआईटी अप्रैल माह के पहले सप्‍ताह में सुप्रीम कोर्ट में अपनी रिपोर्ट सब्मिट करेगी.

उन्होंने कहा कि "एसआईटी द्वारा काले धन के सृजन की जांच करने के लिए अपनी अंतरिम रिपोर्ट के माध्यम से पिछले दो साल में कई सिफारिशें की गई हैं. इनमें से कई सिफारिशों को सरकार द्वारा मान भी लिया गया है. हालांकि कुछ सिफारिशें काले धन पर शिकंजा कसने के लिए सक्रिय विचाराधीन हैं".