पिछले साल 7,000 भारतीय करोड़पति हो गए विदेशों में शिफ्ट

यह चीन के बाद विदेश चले जाने वाले करोड़पतियों की दुनिया में दूसरी सबसे बड़ी संख्या है.

पिछले साल 7,000 भारतीय करोड़पति हो गए विदेशों में शिफ्ट

प्रतीकात्मक फोटो

खास बातें

  • करोड़पति भारतीय नागरिकता छोड़ रहे हैं
  • सबसे ज्यादा अमेरिका, कनाडा, यूएई में गए
  • चीन में भी हैं ऐसे ही हालात
नई दिल्ली:

देश से बाहर जाने वाले करोड़पतियों की संख्या में 2017 में 16% की वृद्धि दर्ज की गई है. इस दौरान 7,000 ऊंची नेटवर्थ वाले भारतीयों ने अपना स्थायी निवास (डोमिसाइल) बदल लिया. यह चीन के बाद विदेश चले जाने वाले करोड़पतियों की दुनिया में दूसरी सबसे बड़ी संख्या है.

न्यू वर्ल्ड वेल्थ की रपट के अनुसार 2017 में 7,000 करोड़पतियों ने अपना स्थायी निवास किसी और देश को बना लिया. वर्ष 2016 में यह संख्या 6,000 और 2015 में 4,000 थी.

वैश्विक स्तर पर 2017 में 10,000 चीनी करोड़पतियों ने अपना डोमिसाइल बदला था.

पढ़ें : भारत में बढ़ गई करोड़पतियों की संख्या, लेकिन इस मामले में आई है गिरावट

अन्य देशों के अमीरों का अपने देश से दूसरे देश में बस जाने की संख्या में तुर्की के 6,000, ब्रिटेन के 4,000, फ्रांस के 4,000 और रुस के 3,000 करोड़पतियों ने अपना डोमिसाइल बदला है.

VIDEO: एक दिन में अरबपति बन गया ये आदमी

स्थायी निवास बदलने के रुख के मुताबिक भारत के करोड़पति अमेरिका, संयुक्त अरब अमीरात, कनाडा, ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड गए हैं जबकि चीनी करोड़पतियों का रुख अमेरिका, कनाडा और ऑस्ट्रेलिया की ओर है.
 

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com