यूरोप में हुईं 71 मौतों का कोरोना के टीकाकरण से कोई ताल्लुक नहीं मिला : विशेषज्ञ

corona vaccination : फ्रांस, स्वीडन, नार्वे समेत कई यूरोपीय देशों में कई ऐसे लोगों की मौतें हुई हैं, जिन्होंने हाल ही के दिनों में कोविड-19 का टीकाकरण करवाया था. हालांकि उनकी मौत का टीकाकरण से कोई संबंध नहीं पाया गया

यूरोप में हुईं 71 मौतों का कोरोना के टीकाकरण से कोई ताल्लुक नहीं मिला : विशेषज्ञ

Norway में सबसे ज्यादा 33 मौतें कोरोना के टीकाकरण के बाद हुईं

पेरिस:

यूरोप में कोरोना के टीकाकरण (COVID-19 Vaccine Shots In Europe) के बाद 71 लोगों की मौत का वैक्सीन से कोई संबंध नहीं पाया गया है. वैज्ञानिकों का कहना है कि इन लोगों की मौत कोरोना की वैक्सीन (Vaccination Deaths) लेने की वजह से हुई हो, ऐसा कोई साक्ष्य नहीं मिला है.स्वास्थ्य एजेंसियों का कहना है कि कोविड-19 वैक्सीन लेने के बाद ज्यादातर जो मौतें हुई भी हैं, वे बेहद बुजुर्ग लोगों की हुई हैं, जो पहले ही तमाम गंभीर रोगों से जूझ रहे हैं.

टीकाकरण के बाद मरने वालों में ज्यादातर बुजुर्ग और बीमार
नार्वे में पिछले हफ्ते तब हड़कंप मच गया था, जब 20 हजार से ज्यादा सेवानिवृ्त्त होम रेजीडेंट को कोरोना का टीका दिया गया था, उनमें से 33 लोगों की मौत हो गई थी. इन लोगों को फाइजर-बायोनटेक की वैक्सीन लगाई गई थी. नार्वे इंस्टीट्यूट ऑफ पब्लिक हेल्थ के अनुसार, इनमें से 13 की उम्र बेहद ज्यादा थी, साथ ही वे गंभीर बीमारियों से जूझ रहे थे. एजेंसी का कहना है कि बुखार, उल्टी-दस्त जैसे वैक्सीनेशन के सामान्य प्रभावों ने बुजुर्ग और बीमार लोगों की परेशानी शायद बढ़ गई हो.


फ्रांस, स्वीडन में भी सामने आए मामले
टीकाकरण के बाद मौतों की इन खबरों से वैक्सीन विरोधी मुहिम भी दुनिया में तेज हो गई है.फ्रांस में 8 लाख लोगों का वैक्सीनेशन हो चुका है और 9 लोगों की मौत हुई है. लेकिन ये सभी काफी बुजुर्ग और काफी गंभीर रोगों से ग्रस्त थे.नेशनल मेडिसिन्स एजेंसी एएनएसएम का कहना है कि अभी तक ऐसा कोई चिकित्सकीय सबूत नहीं मिला है कि वैक्सीन के कारण किसी की मौत हुई हो. स्वीडन में भी 13 और आइसलैंड में 7 लोगों की मौत हुई , लेकिन इनमें भी टीकाकरण से कोई संबंध नहीं पाया गया.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


यूरोपीय मेडिसिन्स एजेंसी ने भी दी हरी झंडी
पुर्तगाल में भी टीका लेने के दो दिन बाद एक हेल्थ केयर वर्कर की मौत हो गई, लेकिन पोस्टमार्टम के बाद इसका टीकाकरण से कोई रिश्ता नहीं पाया गया. फ्रांस के गृह मंत्रालय के अनुसार, टीकाकरण के बाद निगरानी के दिनों में मौत के 71 मामले हुए हैं, लेकिन इनका कोरोना टीकाकरण से कोई ताल्लुक नहीं मिला है.यूरोपियन मेडिसिन्स एजेंसी का कहना है कि फाइजर के टीके कोमिरंटी से जुड़े कोई चिंताजनक साक्ष्य नहीं मिले हैं.



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)