NDTV Khabar

देश में स्वाइन फ्लू के 2,500 से ज्यादा मामले, 77 लोगों की मौत, इन तरीकों से करें बचाव

देश भर में गुरुवार तक स्वाइन फ्लू के 2,500 से ज्यादा मामले सामने आए हैं और बीमारी ने कम से कम 77 लोगों की मौत हुई है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
देश में स्वाइन फ्लू के 2,500 से ज्यादा मामले, 77 लोगों की मौत, इन तरीकों से करें बचाव

प्रतीकात्मक फोटो

खास बातें

  1. अब तक देश भर में स्वाइन फ्लू के 2,572 मामले सामने आए
  2. राजस्थान सबसे ज्यादा प्रभावित, 56 की मौत
  3. दिल्ली सरकार ने भी जारी किया परामर्श
नई दिल्ली:

देश भर में गुरुवार तक स्वाइन फ्लू (Swine Flu) के 2,500 से ज्यादा मामले सामने आए हैं और बीमारी ने कम से कम 77 लोगों की मौत हुई है. बीमारी से सबसे ज्यादा 56 मौत राजस्थान (Rajasthan) में हुई हैं. सरकार की ओर से जारी आंकड़ों के अनुसार, स्वाइन फ्लू (Swine Flu) के 2,572 मामले आएं हैं जिनमें से 1,508 मामले राजस्थान के हैं. गुजरात इस मामले में दूसरे नंबर पर है जहां 438 मामले आए हैं. वहीं दिल्ली में 387 मामले आए हैं. हालांकि दिल्ली में अभी तक स्वाइन फ्लू से किसी की मौत नहीं हुई है. हरियाणा में गुरुवार तक 272 मामले आए थे. बीमारी से होने वाली मौतों में बढोतरी को देखते हुए स्वास्थ्य मंत्रालय ने हाल ही में राज्यों के साथ बैठक कर उनसे नमूनों की जांच जल्दी करने और अस्पतालों में बिस्तर आरक्षित करने को कहा था. इस बीच दिल्ली सरकार ने भी स्वाइन फ्लू के मद्देनजर लोगों के लिये परामर्श जारी किया है. 

BJP अध्यक्ष अमित शाह को मिली AIIMS से छुट्टी, स्वाइन फ्लू के इलाज के लिए हुए थे भर्ती


हाल ही में बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह भी स्वाइन फ्लू (Swine Flu) की चपेट में आ गए थे. जिसके बाद उन्हें दिल्ली के ऑल इंडिया इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज (AIIMS) में भर्ती कराया गया था. बीजेपी अध्यक्ष ने खुद ट्वीट कर इसकी जानकारी दी थी. 

स्वाइन फ्लू की अफवाह पर पूरे गांव का बायकॉट: बच्चों को लेने नहीं आ रहीं स्कूल बसें, दूध और पानी की सप्लाई भी बंद

स्वाइन फ्लू (Swine Flu) एक प्रकार का इंफेक्‍शन होता है जो आमतौर पर स्वाइन इन्फ्लूएंजा ए वायरस (H1N1) के कारण होता है. इस बीमारी से पीड़ित कोई व्‍यक्ति जब छींकता है तो इससे अन्‍य लोग भी पीड़ित होने लगते है. इस बीमारी के लक्षण मौसमी बुखार के जैसे ही होते हैं, जिसे वायरल बुखार भी कहा जाता है. इसके लक्षणों में खांसी, गले में खराश और शरीर में दर्द शामिल है. यदि आप बीमार हैं या फ्लू जैसे कोई लक्षण हैं, तो घर पर रहें. स्कूल या काम पर न जाएं. 

टिप्पणियां

ये टिप्स आपको स्वाइन फ्लू से सुरक्षित रखने में मदद कर सकते हैं

  • जब भी खांसी या छींक आए तो अपना हाथ हमेशा चेहरे पर रखें या चेहरा ढंक लें. यह कीटाणुओं को आपके हाथों में स्थानांतरित नहीं करेगा और फिर आपके द्वारा स्पर्श की जाने वाली प्रत्येक वस्तु तक इंफेक्‍शन नहीं फैलेगा. 
  • लगातार हाथ धोने से स्वाइन फ्लू से बचने में मदद मिल सकती है.
  • अपने पास हैंड सैनिटाइजर रखें. जब आप किसी से हाथ मिलाएं या दरवाजे के हैंडल, कीबोर्ड या किसी की टेबल को छूएं, तो हमेशा हैंड सैनिटाइजर का इस्तेमाल करें.
  • सुनिश्चित करें कि आप फलों और सब्जियों को पानी से धो रहे हों. 
  • भीड़-भाड़ वाली जगहों पर जाने से बचें. अगर आप भीड़-भाड़ वाली जगहों पर जाते हैं, तो फ्लू मास्क पहनें.
  • स्वाइन फ्लू के सामान्य लक्षण विकसित होने पर तुरंत डॉक्टर से मिलें. 

Video: राजस्‍थान में स्वाइन फ़्लू का बढ़ता ख़तरा


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान प्रत्येक संसदीय सीट से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों, LIVE अपडेट तथा चुनाव कार्यक्रम के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement