NDTV Khabar

7वें वेतन आयोग की सिफारिशों के विरोध में केंद्रीय कर्मचारी संगठनों की 11 जुलाई से होने वाली हड़ताल टली

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
7वें वेतन आयोग की सिफारिशों के विरोध में केंद्रीय कर्मचारी संगठनों की 11 जुलाई से होने वाली हड़ताल टली

राजनाथ सिंह (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. कर्मचारियों की मांग पर सरकार की एक उच्चस्तरीय कमेटी विचार करेगी
  2. कर्मचारी संगठनों की गृहमंत्री से दूसरी मुलाकात के बाद लिया गया फैसला
  3. कर्मचारियों की समस्त मांगों पर किया जाएगा विचार
नई दिल्ली: सातवें वेतन आयोग की सिफारिशों के विरोध में केंद्रीय कर्मचारी संगठनों की 11 जुलाई से होने वाली हड़ताल चार महीने के लिए टल गई है। वेतन आयोग की सिफारिशों में बदलाव को लेकर सरकारी कर्मचारियों की मांग पर सरकार की एक उच्चस्तरीय कमेटी विचार करेगी। वित्त मंत्रालय ने बुधवार को एक बयान जारी कर यह आश्वासन दिया। सरकार के आश्वासन के बाद कर्मचारी संगठनों ने हड़ताल को टालने का फैसला लिया। (पढ़ें -7वें वेतन आयोग में उलझे प्रश्नों के जवाब यहां पढ़ें)

राजनाथ से मिले कर्मचारी संगठनों के नेता
बुधवार को सरकारी कर्मचारियों के संगठनों के नेताओं की गृह मंत्री राजनाथ सिंह से दूसरी मुलाकात के बाद यह फैसला लिया गया है। सरकार की तरफ से जारी बयान में कहा गया है कि यह कमेटी केंद्र सरकार के कर्मचारियों की सभी मांगों पर विचार करेगी। (पढ़ें - वेतन आयोग गतिरोध : दोनों ओर से मिल रहे पॉजिटिव संकेत, बढ़ सकता है न्यूनतम वेतनमान!)

कर्मचारियों की दो मांगें प्रमुख

कर्मचारी संगठनों ने सरकार के साथ दो दौर की बातचीत में मुख्य तौर पर दो मांगें सरकार के सामने रखी हैं- न्यूनतम बेसिक सैलरी को 18000 रुपये प्रति माह से बढ़ाया जाए और पेंशन व्यवस्था की खामियों को दुरुस्त किया जाए। अब सरकार की उच्चस्तरीय कमेटी एक समयबद्ध तरीके से इन मांगों पर विचार करेगी।


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement