NDTV Khabar

मंदिर में तोड़फोड़: अमित शाह से मिलने के बाद पुलिस ने दिखाई फुर्ती, 6 और लोग हुए गिरफ्तार

चावड़ी बाज़ार के पास लाल कुआं इलाके में रविवार को स्कूटर खड़ा करने को लेकर दो व्यक्तियों के बीच हुए झगड़े से विवाद शुरु हुआ और फिर पास के मंदिर में तोड़फोड़ तक पहुंच गया था.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
मंदिर में तोड़फोड़: अमित शाह से मिलने के बाद पुलिस ने दिखाई फुर्ती,  6 और लोग हुए गिरफ्तार

मामले की जांच के लिए दिल्ली हाईकोर्ट में एक याचिका दायर की गई है. (प्रतीकात्मक फोटो)

खास बातें

  1. अमित शाह ने दिल्ली कमिश्नर को किया था तलब
  2. गिरफ्तार किए गए लोगों में एक नाबालिग भी शामिल
  3. जांच में जुटी है पुलिस
नई दिल्ली:

पुरानी दिल्ली के हौज काजी इलाके में मंदिर में तोड़फोड़ के मामले में पुलिस ने 6 और लोगों को गिरफ्तार कर लिया है. दिल्ली पुलिस कमिश्नर अमूल्य पटनायक ने बुधवार को गृह मंत्री अमित शाह को संसद भवन पहुंचकर मामले में की जा रही जांच से संबंधित जानकारी दी. चावड़ी बाज़ार के पास लाल कुआं इलाके में रविवार को स्कूटर खड़ा करने को लेकर दो व्यक्तियों के बीच हुए झगड़े से विवाद शुरु हुआ और फिर पास के मंदिर में तोड़फोड़ तक पहुंच गया था. फिलहाल इस मामले में अब तक 9 लोगों को पकड़ा जा चुका है. इलाके में सुरक्षा व्यवस्था कड़ी है और घटना के बाद पहली बार बुधवार को मंदिर में पूजा अर्चना की गई. इससे एक दिन पहले शांति मार्च निकाला गया था जिसमें स्थानीय सांसद और केंद्रीय मंत्री हर्षवर्धन ने भी शिरकत की थी. 

अमित शाह ने घटना पर पटनायक के साथ बैठक की. पुलिस प्रमुख ने कहा कि हौज़ काज़ी थाना क्षेत्र में हालात सामान्य हैं और स्थिति नियंत्रण में है. मंत्री को पुलिस द्वारा की गई कार्रवाई के बारे में बताया गया. शाह के साथ मुलाकात के बाद पटनायक ने संवाददाताओं को बताया कि उन्होंने गृह मंत्री को घटना की सामान्य जानकारी दी और बताया कि इलाके में हालात सामान्य हैं. यह मुलाकात इसी बारे में थी. सामान्य कार्रवाई की जा चुकी है, न्यायिक कार्रवाई की जाएगी. 


दिल्ली: बाइक पार्किंग को लेकर शुरू हुए विवाद ने लिया सांप्रदायिक रंग, अभी तक तीन गिरफ्तार

पटनायक ने बताया कि सीसीटीवी फुटेज को खंगाला जा रहा है. मामले की जांच जारी है. उधर, घटना पर राजनीति जारी है. पूर्व केंद्रीय मंत्री गोयल ने मंदिर में हुई तोड़फोड़ की घटना में दिल्ली के पर्यावरण मंत्री हुसैन के संलिप्त होने का आरोप लगाया. हालांकि, आप नेता ने इस इल्ज़ाम को खारिज किया और बेबुनियाद आरोप लगाए जाने को लेकर उनके खिलाफ पुलिस के पास शिकायत दर्ज कराई है. भाजपा के राज्यसभा सदस्य एवं पार्टी की दिल्ली इकाई के पूर्व प्रमुख गोयल ने आरोप लगाया कि हौज़ काज़ी इलाके के उनके दौरे के दौरान स्थानीय लोगों ने उनसे कहा कि हुसैन ने इस घटना को जानबूझकर सांप्रदायिक रंग दिया. इल्ज़ाम का खंडन हुए हुसैन ने कहा कि वह पुलिस की गुज़ारिश पर लोगों को शांत करने की कोशिश कर रहे थे. ऐसी खबरें आई थीं कि संघर्ष के समय इलाके में मंत्री मौजूद थे. इस पर प्रतिक्रिया देते हुए बल्लीमारन के विधायक ने कहा कि पुलिस ने उन्हें मौके पर बुलाया था, क्योंकि यह इलाका उनके विधानसभा क्षेत्र में आता है. 

दिल्ली में पार्किंग विवाद को लेकर कुमार विश्वास ने साधा निशाना, कहा- चुनावों की आहट के चलते...

टिप्पणियां

कांग्रेस ने भी केंद्र पर हमला किया और आरोप लगाया कि मंदिर में तोड़फोड़ के दो दिन बाद भी दिल्ली पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की. पुलिस ने बताया कि दिल्ली पुलिस और अर्द्धसैनिक बलों की पांच कंपनियां इलाके में तैनात हैं. इलाके में सभी दुकानें खुली हैं. मध्य दिल्ली के पुलिस उपायुक्त मनदीप सिंह रंधावा ने बताया कि घटना के सिलसिले में कुल पांच लोगों को गिरफ्तार किया गया है और चार नाबालिगों को पकड़ा गया है. पुलिस ने मंगलवार को एक नाबालिग समेत तीन लोगों को पकड़ा था. इस बीच, दिल्ली उच्च न्यायालय में बुधवार को एक जनहित याचिका दायर कर मंदिर पर हमले के पीछे कथित साजिश का पता लगाने के लिए एसआईटी जांच की मांग की गई है. याचिका में कहा गया है कि विशेष जांच दल (एसआईटी) दुर्गा मंदिर पर हमले की जांच करे और अपराध के असली दोषियों की शिनाख्त करे. अदालत इस जांच की निगरानी करे. (इनपुट-भाषा)

Video: रवीश कुमार का प्राइम टाइम: पुरानी दिल्ली के हौजकाजी में सांप्रदायिक तनाव



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement