हाथरस केस: AAP सांसद संजय सिंह का आरोप, 'दोषियों को बचाने के लिए झूठा शपथ पत्र दे रही यूपी सरकार'

'आप' (AAP) सांसद ने कहा, 'सर्वोच्च न्यायालय से अनुरोध करूंगा कि इसका संज्ञान लें और इस फर्जीवाड़े के लिए योगी आदित्‍यनाथ और उनकी सरकार के लोगों पर कार्रवाई करे. 

हाथरस केस: AAP सांसद संजय सिंह का आरोप, 'दोषियों को बचाने के लिए झूठा शपथ पत्र दे रही यूपी सरकार'

सांसद संजय सिंह ने हाथरस मामले में यूपी सरकार पर निशाना साधा है (फाइल फोटो)

खास बातें

  • यूपी सरकार पर इस मामले में निशाना साधा
  • सु्प्रीम कोर्ट से मामले को संज्ञान लेने का किया आग्रह
  • कहा, फर्जीवाड़े के लिए सीएम और सरकार के लोगों पर करे कार्रवाई
नई दिल्‍ली:

आम आदमी पार्टी (Aam Aadmi Party) के सांसद संजय सिंह (Sanjay Singh) ने हाथरस मामले (Hathras Case) उत्‍तरप्रदेश सरकार (Uttar Pradesh government) को आड़े हाथ लिया. उन्‍होंने एक प्रेस कॉन्‍फ्रेंस में कहा, 'हिंदुस्तान में पहली बार ऐसा हुआ होगा कि दोषियों को बचाने के लिए कोई सरकार कोर्ट में झूठा शपथ पत्र दे रही है. हाथरस के बलात्कारियों को बचाने के लिए यह हुआ है. सीएम आदित्‍यनाथ ने बयान दिया था कि यह दंगे कराने की साजिश है. इसमें अज्ञात 19 लोगों के खिलाफ देशद्रोह का मुकदमा कर दिया गया.' संजय सिंह ने दावा किया कि जिस वेबसाइट का उन्होंने हवाला दिया था, वो वही वेबसाइट है जो अमेरिका में अश्वेत लोगों के प्रदर्शन के लिए बनाई गई थी. इसका इस्तेमाल सिर्फ उन्होंने प्रचारित करने के किए नहीं किया, बल्कि कोर्ट में भी शपथ पत्र में लगा दिया. इस वेबसाइट के बारे में कहा गया है कि न्यूयॉर्क पुलिस आपका फोटो वीडियो बनाएगी. हम पूछना चाहते हैं कि हाथरस में कौन सी न्यूयॉर्क पुलिस काम करती है, इनके पास फर्जीवाड़ा करने की भी अकल नहीं है, झूठ बोलने की भी अकल नहीं है.

दलित समाज की बच्‍ची को न्‍याय नहीं दिलाना चाहते योगी : संजय सिंह

'आप' (AAP) सांसद ने कहा, 'सर्वोच्च न्यायालय से अनुरोध करूंगा कि इसका संज्ञान लें और इस फर्जीवाड़े के लिए योगी आदित्‍यनाथ और उनकी सरकार के लोगों पर कार्रवाई करे. कोर्ट ने जिस तरह लताड़ लगाई है उससे स्पष्ट है कि योगी आदित्‍यनाथ सरकार बलात्कारियों को बचा रही है. प्रतापगढ़, गोरखपुर, जैसे इलाकों में आए दिन ऐसी घटनाएं सामने आ रहीं हैं. यूपी में आए दिन बेटियां मौत को गले लगा रहीं हैं. आज बाराबंकी में एक बेटी की हत्या हो गई, परिवार इसमें बलात्कार की आशंका जता रहे है. उन्‍होंने कहा कि कल एक अखबार मे 22 पन्ने का विज्ञापन दिया गया सिर्फ इसलिए कि अपने गुनाह को छुपा सकें.

Newsbeep

हाथरस केस: सवालों में फॉरेंसिक रिपोर्ट

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com