NDTV Khabar

कुमार विश्वास बोले - राजस्थान में आप अपने मूलभूत सिद्धांतों पर लौटेगी, पर क्या जीत मिलेगी?

राजस्थान में अगले वर्ष होने वाले विधानसभा चुनाव के मद्देनजर आप नेता कुमार विश्वास ने शनिवार को कहा कि चुनाव की तैयारी में आप को अपने मूलभूत सिद्धांत याद रखने चाहिए.

1.2K Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
कुमार विश्वास बोले - राजस्थान में आप अपने मूलभूत सिद्धांतों पर लौटेगी, पर क्या जीत मिलेगी?

कुमार विश्वास (फाइल फोटो)

नई दिल्ली: राजस्थान में अगले वर्ष होने वाले विधानसभा चुनाव के मद्देनजर आप नेता कुमार विश्वास ने शनिवार को कहा कि चुनाव की तैयारी में आप को अपने मूलभूत सिद्धांत याद रखने चाहिए. उन्होंने संकेत दिया कि पंजाब और गोवा में चुनाव में पार्टी अपने मूल सिद्धांत से दूर हो गई थी. विश्वास को पिछले महीने ही राजस्थान में आप का प्रभारी नियुक्त किया गया. उन्होंने कहा कि दिल्ली के नेताओं का दखल कम से कम होगा और चुनाव की तैयारी में राज्य इकाई को अपने फैसले लेने की पूरी आजादी दी जाएगी.

उन्होंने कहा, "पार्टी राजस्थान में अपने उन्हीं मूल सिद्धांतों पर लौटेगी जिनसे उसने शुरुआत की थी." यहां पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए विश्वास ने कहा, "हम दिल्ली में जीते (वर्ष 2013 और 2015 में) लेकिन पंजाब, गोवा और दिल्ली निकाय चुनाव में हार गए. अब स्थिति यह है कि राजस्थान के चुनाव पार्टी में नई जान फूंकने के लिए बेहद अहम है." उन्होंने कहा कि आप के पोस्टरों, बैनरों या सोशल मीडिया अभियानों में पार्टी के किसी प्रभारी या पर्यवेक्षक की तस्वीर नहीं होगी. कोई भी होटल या फार्म हाउस पर नहीं रूकेगा, बल्कि पार्टी दफ्तर या कार्यकर्ताओं के आवास पर ठहरेंगे." हालांकि सूत्र ने बताया कि मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की तस्वीर पोस्टरों पर होगी.

उधर, आम आदमी पार्टी यानी 'आप' के अंदर सब कुछ ठीक नहीं होने की खबर है. पार्टी के नए फरमान के तहत अभी तक पार्टी के लिए विदेश से चंदा जुटाने वाले कुमार विश्वास से ये ज़िमेदारी अब ले ली गई है. अब विदेश से चंदा जुटाने की जिम्मेदारी पंकज गुप्ता को दे दी गई है. इसे पार्टी में कुमार के कद को घटाने की कोशिश के तौर पर देखा जा रहा है. इससे पहले कपिल मिश्रा के चंदे में हवाला का पैसा होने के आरोपों के बीच राघव चड्डा से कोषाध्यक्ष की ज़िम्मेदारी लेकर पार्टी प्रवक्ता दीपक वाजपेयी को दे दी गई है.

शनिवार को राजस्थान इकाई की बैठक के लिए कुमार विश्‍वास को "आप" दफ़्तर आना था. उससे पहले कुमार विश्‍वास के धुर विरोधी विधायक अमानतुल्लाह के पोस्टर पार्टी दफ़्तर में लगे थे, जिसमें उन्‍हें अरविंद का पसंदीदा विधायक बताया गया है लेकिन जैसे ही कुमार विश्वास पार्टी दफ़्तर पहुंचे. वैसे ही बाहर लगे अमानततुल्लाह के पोस्टर हटवा दिए गए.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement