आम आदमी पार्टी का बड़ा ऐलान: मौजूदा विधायकों, मंत्रियों को लोकसभा चुनाव में नहीं मिलेगा टिकट

आम आदमी पार्टी आगामी लोकसभा चुनाव में अपने किसी भी मौजूदा विधायक और मंत्रियों को टिकट नहीं देगी.

आम आदमी पार्टी का बड़ा ऐलान: मौजूदा विधायकों, मंत्रियों को लोकसभा चुनाव में नहीं मिलेगा टिकट

लोकसभा चुनाव पर आम आदमी पार्टी के गोपाल राय की प्रतिक्रिया

खास बातें

  • लोकसभा चुनाव के लिए आम आदमी पार्टी तैयारियों में जुटी.
  • मौजूदा विधायकों, मंत्रियों को 'आप' का टिकट नहीं
  • दिल्ली, पंजाब और हरियाणा में भी नहीं मिलेंगे टिकट.
नई दिल्ली:

लोकसभा चुनाव 2019 के लिए आम आदमी पार्टी ने कमर कस ली है और अभी से ही रणनीतियों पर पार्टी नेता मंथन-चिंतन कर रहे हैं. दरअसल, आम आदमी पार्टी आगामी लोकसभा चुनाव में अपने किसी भी मौजूदा विधायक और मंत्रियों को टिकट नहीं देगी. मंगलवार को यह जानकारी पार्टी नेता गोपाल राय ने दी. आम आदमी पार्टी की दिल्ली इकाई की कमान संभालने वाले गोपाल राय ने कहा कि दिल्ली, पंजाब और हरियाणा में आम चुनावों के लिए पार्टी के उम्मीदवारों की घोषणा चुनाव की अधिसूचना से बहुत पहले कर दी जाएगी. 

दिल्ली सरकार ने पशुओं के स्वास्थ्य और कल्याण के लिए पॉलिसी बनाई

जब पत्रकारों ने गोपाल राय से पूछा कि क्या आगामी चुनाव में AAP विधायक और मंत्रियों को आम आदमी पार्टी चुनावी मैदान में उतार सकती है, तो इस पर गोपाल राय ने कहा कि हम किसी भी मौजूदा विधायकों को टिकट देने नहीं देने जा रहे हैं. सभी टिकट के लिए इंटरेस्टेड हैं, मगर हम उन्हें टिकट नहीं देंगे. 

2019 के लोकसभा चुनाव में महागठबंधन पर आखिर क्या है आम आदमी पार्टी का रुख ?

दरअसल, आम आदमी पार्टी ने पहले दिल्ली की 7 लोकसभा सीटों में से 6 के प्रभारियों का ऐलान कर दिया है. पश्चिमी दिल्ली सीट से अभी तक प्रभारी का ऐलान नहीं किया गया है.

आम आदमी पार्टी ने दिल्ली की सभी सात लोकसभा सीटों पर बीजेपी को हराने का लक्ष्य तय किया

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

गोपाल राय का कहना है कि हम दिल्ली, हरियाणा और पंजाब में अपने उम्मीदवारों की घोषणा, चुनाव के ऐलान से पहले करेंगे. बता दें कि आम आदमी पार्टी ने आगामी लोकसभा चुनाव में तीन राज्यों में अकेले चुनाव लड़ने का ऐलान किया है. आम आदमी पार्टी ने कांग्रेस के साथ न जाने का निर्णय लिया है. 
 

VIDEO: अब दिल्ली सरकार ले सकेगी निर्णय : गोपाल राय