अब्दुल कलाम अंतरिक्ष वैज्ञानिक थे और मोदी हैं समाज विज्ञानी : राष्ट्रपति कोविंद

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने अहमदाबाद में गुजरात विश्वविद्यालय के 66वें दीक्षांत समारोह को संबोधित करते हुए एपीजे अब्दुल कलाम और पीएम नरेंद्र मोदी की तुलना की

अब्दुल कलाम अंतरिक्ष वैज्ञानिक थे और मोदी हैं समाज विज्ञानी : राष्ट्रपति कोविंद

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद (फाइल फोटो).

अहमदाबाद:

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने रविवार को एपीजे अब्दुल कलाम और नरेन्द्र मोदी के बीच तुलना करते हुए कहा कि पूर्व राष्ट्रपति एक ‘अंतरिक्ष विज्ञानी’ थे, जबकि मौजूदा प्रधानमंत्री एक ‘समाज विज्ञानी’ हैं.

कोविंद ने अहमदाबाद में गुजरात विश्वविद्यालय के 66वें दीक्षांत समारोह को संबोधित करते हुए यह बात कही. कोविंद ने अपने संबोधन में कहा, ‘‘कलाम सर सौभाग्य से मेरे पूर्वाधिकारी थे. हालांकि वह राष्ट्रपति बने, पर वह मूल रूप से एक वैज्ञानिक थे. इसी तरह से, मैं आमतौर पर उनका जिक्र एक अंतरिक्ष वैज्ञानिक के तौर पर करता हूं जबकि मैं मोदी जी को एक समाज विज्ञानी कहा करता हूं.’’

यह भी पढ़ें : राजस्थान की इस महिला कुली की कहानी सुनकर भावुक हो गए राष्ट्रपति

उन्होंने कहा, ‘‘मोदी जी गुजरात विश्वविद्यालय के एक पूर्व छात्र हैं, वहीं कलाम सर ने भी यहां कुछ वक्त बिताया था.’’ उन्होंने हल्के फुल्के अंदाज में कहा कि दीक्षांत समारोह में मौजूद किसी छात्र ने चाय नहीं बेची होगी, जैसे कि मोदी जी ने बचपन में बेची थी. कोविंद ने कहा, ‘‘...यह एक ऐसे व्यक्ति हैं जो यहां जन्मे और पले बढ़े, यहां पढ़ाई की और फिर प्रधानमंत्री बने. यह सचमुच में प्रेरणादायक है.’’

VIDEO : देश के नाम पहला संदेश

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

उन्होंने कहा कि मोदी ने ‘डिजिटल इंडिया’ और ‘स्टार्ट अप इंडिया’ जैसी चीजों को लाकर आज की पीढ़ी के लिए 21वीं सदी के दरवाजे खोले. कोविंद ने छात्रों से विकास के लिए सहयोग और भाईचारे की भावना ध्यान में रखने की भी अपील की.
(इनपुट भाषा से)

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)