NDTV Khabar

Abhijit Banerjee को नोबेल मिलने पर बोले उनके क्लासमेट और टीचर- वे बचपन से ही...

साउथ प्वाइंट स्कूल में अभिजीत बनर्जी की सहपाठी रहीं शर्मिला डे कहा कि उन्हें इस बात पर गर्व है कि 1971 से 78 तक वह और बनर्जी एक ही कमरे में पढ़े.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
Abhijit Banerjee को नोबेल मिलने पर बोले उनके क्लासमेट और टीचर- वे बचपन से ही...

भारतीय मूल अमेरिकी अर्थशास्त्री अभिजीत बनर्जी

खास बातें

  1. बनर्जी को अर्थशास्त्र का नोबेल मिलने पर कोलकाता में जश्न का माहौल
  2. एक स्कूल शिक्षक ने कहा कि बनर्जी स्कूल में अध्ययन के समय अंतर्मुखी थे
  3. पढ़ाई के अतिरिक्त वह खेल, खासकर फुटबाल में भी रुचि लेते थे
कोलकाता:

अभिजीत बनर्जी (Abhijit Banerjee) को अर्थशास्त्र का नोबेल पुरस्कार (Economics Nobel Prize 2019) मिलने पर कोलकाता में जश्न का माहौल है. उनकी एक सहपाठी और एक स्कूल शिक्षक ने कहा कि बनर्जी स्कूल में अध्ययन के समय अंतर्मुखी और विनम्र थे. वह बचपन से ही उत्कृष्ट विद्यार्थी थे. साउथ प्वाइंट स्कूल में बनर्जी की सहपाठी रहीं शर्मिला डे कहा कि उन्हें इस बात पर गर्व है कि 1971 से 78 तक वह और बनर्जी एक ही कमरे में पढ़े. उन्होंने कहा, ‘जिस तरह वह (बनर्जी) कक्षा में गणित के सवालों का हल निकालते थे, हम उससे हमेशा प्रभावित रहते थे. पढ़ाई के अतिरिक्त वह खेल, खासकर फुटबाल में भी रुचि लेते थे.'

पति-पत्नी के अलावा Nobel Prize जीतने वाले अभिजीत बनर्जी और एस्थर डुफलो में है एक और दिलचस्प कनेक्शन

बता दें, भारतीय-अमेरिकी अभिजीत बनर्जी, उनकी पत्नी एस्थर डुफ्लो और एक अन्य अर्थशास्त्री माइकल क्रेमर को संयुक्त रूप से 2019 के लिए अर्थशास्त्र का नोबेल पुरस्कार देने की घोषणा की गई है. बनर्जी की गणित की शिक्षक दीपाली सेनगुप्ता ने याद करते हुए कहा कि कक्षा आठ में किस तरह एक ‘अंतर्मुखी और विनम्र लड़का' पलभर में सवाल को हल कर देता था. उन्होंने कहा कि बनर्जी में उत्कृष्टता के गुण बचपन से ही दिखने लगे थे. यह पूछे जाने पर कि क्या स्कूल के बाद वह नोबेल विजेता के संपर्क में थीं, उन्होंने इसका जवाब ‘न' में दिया. सेनगुप्ता ने कहा, ‘मुझे उम्मीद है कि उन्हें अब भी गणित की अपनी स्कूल अध्यापिका याद होगी.'


नोबेल पुरस्कार के ऐलान के बाद क्या थी अभिजीत बनर्जी की प्रतिक्रिया, खुद बताया

टिप्पणियां

Video:भारतीय मूल के अभिजीत बनर्जी को मिला अर्थशास्त्र का नोबेल



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement