NDTV Khabar

कमल हासन के कड़वे बोल- निठल्ले नेताओं को सैलरी नहीं मिलना चाहिए

कमल हासन ने ट्वीट कर कहा, " काम नहीं तो पैसा नहीं, सिर्फ सरकारी कर्मचारियों के लिए क्यों? रिसॉर्ट में सौदा करने वाले नेताओं के बारे में क्या राय है."

4302 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
कमल हासन के कड़वे बोल- निठल्ले नेताओं को सैलरी नहीं मिलना चाहिए

कमल हासन ने नेताओं पर कसा तंज

खास बातें

  1. रिसॉर्ट में सौदा करने वालों के बारे में क्या राय
  2. काम नहीं तो वैसा नहीं का मंत्र नेताओं पर क्यों नहीं
  3. कोर्ट नेताओं को चेतावनी जारी क्यों नहीं करते
नई दिल्ली: अभिनेता-फिल्मकार कमल हासन की खुद की पार्टी बनाने की अफवाहों के बीच अभिनेता ने शुक्रवार को कहा कि रिसॉर्ट में आराम फरमाने वाले नेताओं को वेतन नहीं दिया जाना चाहिए. कमल हासन ने ट्वीट कर कहा, " काम नहीं तो पैसा नहीं, सिर्फ सरकारी कर्मचारियों के लिए क्यों? रिसॉर्ट में सौदा करने वाले नेताओं के बारे में क्या राय है." उन्होंने कहा, माननीय न्यायालय ने हड़ताल कर रहे शिक्षकों को चेतावनी दी है. मैंने अदालत से उन विधायकों के खिलाफ भी इसी तरह ही चेतावनी जारी करने को कहा है, जो काम नहीं करते." पिछले कुछ महीनों में, हासन तमिलनाडु की वर्तमान राजनीति को लेकर काफी मुखर रहे. राजनीति पार्टी में प्रवेश के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने स्पष्ट किया कि उनकी किसी राजनीतिक पार्टी में प्रवेश की योजना नहीं है। वन दिनों वह तमिल फिल्म 'विश्वरूपम 2' की रिलीज के इंतजार में हैं.

राजनीति में आने की चर्चाओं पर बोले कमल हासन, 'भगवा' मेरा पसंदीदा रंग नहीं

इससे पूर्व कमल हासन ने पत्रकार-सामाजिक कार्यकर्ता गौरी लंकेश की हत्या की निंदा करते हुए कहा था कि बंदूक की गोली से किसी को चुप कर देना बहस का कोई हल नहीं है. कमल ने ट्विटर पर लिखा था कि बंदूक से मुंह बंदकर बहस में जीतना सबसे बुरी जीत है. गौरी के निधन से दुखी सभी लोगों के साथ मेरी संवेदना. उन्होंने पिछले सप्ताह ट्विटर के माध्यम से एक राजनीतिक दल बनाने का संकेत दिया था लेकिन यह भी स्पष्ट किया था कि वह दक्षिणपंथी 'भगवा' के साथ सहयोग नहीं करेंगे. मंगलवार की रात गौरी लंकेश के बेंगलुरु स्थित घर पर अज्ञात हमलावरों द्वारा उनकी हत्या कर दी गई.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement