एडीएम हत्या से नाराज़ 17 लाख कर्मचारी हड़ताल पर

खास बातें

  • उधर, समाजसेवी अन्ना हज़ारे इस मामले से इतने नाराज़ हैं कि उन्होंने अपना मौन व्रत तोड़कर दोषियों को सरेआम फांसी देने के लिए कह दिया।
मुंबई:

मालेगांव के एडीएम को जलाकर मारने के ख़िलाफ़ महाराष्ट्र के 17 लाख सरकारी कर्मचारी हड़ताल पर चले गए हैं। इसमें क्लास−वन और क्लास टू के अधिकारियों के साथ−साथ कमर्चारी भी हड़ताल पर हैं। सरकारी अधिकारियों के संगठन के महासचिव जीडी कुल्थे ने कहा है कि पूरे राज्य में हड़ताल को सफल बनाया जाएगा। इनकी मांग है कि जल्द से जल्द दोषियों को गिरफ्तार करके सज़ा दी जाए। सरकारी कर्मचारियों में इस हत्या के खिलाफ काफी गुस्सा है। इस बीच, मामले से जुड़े सात आरोपियों को 8 फरवरी तक पुलिस हिरासत में भेज दिया गया है। उधर, समाजसेवी अन्ना हज़ारे इस मामले से इतने नाराज़ हैं कि उन्होंने अपना मौन व्रत तोड़कर दोषियों को सरेआम फांसी देने के लिए कह दिया। एडीएम यशवंत सोनवणे की नज़र काफी समय से तेल माफिया पर थी। इस इलाके में कई साल से तेल माफिया की दहशत है। उनका परिवार मामले की सीबीआई जांच की मांग कर रहा है।गौरतलब है कि एडीएम सोनावणे को तेल माफिया ने 2 दिन पहले मनमाड में पेट्रोल छिड़करकर जिंदा जला दिया था, जिसके बाद पूरे देश में विरोध की लहर है।

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com