NDTV Khabar

भाजपा ने घोषित की इस साल 1027.34 करोड़ रुपए की आय, कांग्रेस ने नहीं दिया कोई ब्यौरा

भाजपा की आय पिछले साल की बजाय इस बार करीब सात करोड़ रुपए की कम आय हुई है, 2016-17 वित्त वर्ष में भाजपा की आय 1,034.27 करोड़ रुपए थी.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
भाजपा ने घोषित की इस साल 1027.34 करोड़ रुपए की आय, कांग्रेस ने नहीं दिया कोई ब्यौरा

प्रतीकात्मक तस्वीर.

खास बातें

  1. भाजपा को पिछली बार की बजाय सात करोड़ कम की कमाई
  2. भाजपा ने 758.47 करोड़ रुपए किए खर्च
  3. कांग्रेस ने नहीं दिया ब्यौरा
नई दिल्ली:

भारतीय जनता पार्टी ने वित्त वर्ष 2017-18 के दौरान अपनी आय और खर्च का ब्यौरा दे दिया है, हालांकि, कांग्रेस ने अभी तक घोषणा नहीं की है. भाजपा ने वित्त वर्ष 2017-18 के दौरान 1027.34 करोड़ रुपए की कुल आय घोषित की थी, जिसमें से उसने 74 प्रतिशत (758.47 करोड़ रुपए) खर्च कर दिए. भाजपा की आय पिछले साल की बजाय इस बार करीब सात करोड़ रुपए की कम आय हुई है, 2016-17 वित्त वर्ष में भाजपा की आय 1,034.27 करोड़ रुपए थी. यह जानकारी एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म्स (एडीआर) की एक रिपोर्ट में सामने आई है. एडीआर ने कहा कि कांग्रेस ने उक्त वर्ष के लिए अपनी ऑडिट रिपोर्ट अभी जमा नहीं की है. 

वही कम्यूनिस्ट पार्टी ऑफ इंडिया(एम) ने 104.847 करोड़ रुपए की आय बताई है और इसने  83.482 रुपए खर्च कर दिए. रिपोर्ट के मुताबिक 2017-18 में बसपा की कुल आय 51.7 करोड़ रुपए थी जिसमें से पार्टी ने केवल 29 प्रतिशत यानी 14.78 करोड़ रुपए ही खर्च किये. रिपोर्ट के अनुसार राकांपा एकमात्र पार्टी है, जिसने 8.15 करोड़ रुपये की कुल आय से अधिक पैसा खर्च कर दिया.  उसका खर्च 8.84 करोड़ रुपए रहा. तृणमूल कांग्रेस की कुल आय 5.167 करोड़ रुपए तो सीपीआई की कुल आय 1.55 रुपए रही. 


छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव: चुने गए 90 में से 68 विधायक हैं करोड़पति, ADR की रिपोर्ट से हुआ खुलासा

वित्त वर्ष 2016-17 के दौरान 225.36 करोड़ रुपए की आय वाली कांग्रेस ने अभी तक अपने इन्कम टैक्स रिटर्न की कॉपी जमा नहीं करवाई है. पार्टियों को 30 अक्टूबर तक वार्षिक ऑडिट के लिए कागजात जमा कराने थे. 

टिप्पणियां

7 राष्ट्रीय दलों को मिला 587 करोड़ रुपये का चंदा, सिर्फ बीजेपी ने झटक लिए इतने करोड़ रुपये

VIDEO- राजनीतिक दलों को मिला चार साल में 956.77 करोड़ का चंदा



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement