COVID वैक्सीन को हरी झंडी, जानें DCGI की मंजूरी के बाद अब आगे क्या होगा?

केंद्र सरकार इन दोनों कंपनियों से वैक्सीन खरीदने की प्रक्रिया शुरू करेगी और दोनों कंपनियों के साथ एक डील साइन करेगी. 

नई दिल्ली:

कोरोना वायरस (Coronavirus) महामारी से मुकाबले के लिए भारत का COVID वैक्सीन का इंतजार अब खत्म हो गया है. देश के ड्रग्स कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया (DCGI) ने रविवार को दो वैक्सीन के देश में सीमित आपात इस्तेमाल को मंजूरी दे दी. जिससे व्यापक टीकाकरण अभियान का रास्ता साफ हो गया है. सीरम इंस्टीट्यूट की कोविशील्ड (COVISHIELD) और भारत बायोटेक की कोवैक्सीन (Covaxin) को मंजूरी मिली है.

अब ड्रग्स कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया भारत सरकार को सूचना देंगे कि दो वैक्सीन को सुरक्षित और प्रभावी पाते हुए आपातकालीन हालात में इस्तेमाल की मंजूरी दी गई है और इस आधार पर इनको इमरजेंसी इस्तेमाल के लिए लाइसेंस जारी किए जाए. इसके बाद केंद्र सरकार इन दोनों कंपनियों से वैक्सीन खरीदने की प्रक्रिया शुरू करेगी और दोनों कंपनियों के साथ एक डील साइन करेगी. 

इस डील में सरकार और कंपनियों के बीच समझौता होगा कि ये कंपनियां किस रेट पर, कब तक और कितनी वैक्सीन की डोज़ सरकार को देंगी. डील साइन होने के बाद कंपनियां सरकार को वैक्सीन की सप्लाई करेंगी. इस दौरान केंद्र सरकार, राज्य सरकारों के साथ यह चर्चा कर सकती है कि वैक्सीन का ख़र्चा कैसे वहन होगा.


डीसीजीआई डॉक्टर वी जी सोमानी ने संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘‘सीडीएससीओ ने पर्याप्त अध्ययन के बाद विशेषज्ञ समिति की सिफारिशों को स्वीकार करने का फैसला किया है और तदनुसार सीरम और भारत बायोटेक के टीकों के आपात स्थिति में सीमित उपयोग के लिए स्वीकृति प्रदान की जा रही है.'' इससे आने वाले दिनों में भारत में कम से कम दो टीकों के जारी होने का रास्ता साफ हो गया है.

वीडियो: सीरम इंस्टीट्यूट-भारत बायोटेक की वैक्सीन को मंजूरी

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com