NDTV Khabar

पंडितों के बाद अब कश्मीर से सिखों को निकाला जा रहा है, केंद्र से तत्काल कार्रवाई की मांग

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
पंडितों के बाद अब कश्मीर से सिखों को निकाला जा रहा है, केंद्र से तत्काल कार्रवाई की मांग

प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर

खास बातें

  1. PAK गड़बड़ियां फैला रहा है और श्रीनगर में सिखों को खतरा पैदा हो गया है
  2. पंजाब में लगातार सामाजिक वैमनस्य फैलाने वाली घटनाएं हो रही हैं
  3. पंजाब में केंद्रीय दल भेजा जाए, इससे पंजाब सरकार का हौसला बढ़ेगा
नई दिल्‍ली:

पाकिस्तान पर भारत में गड़बड़ी फैलाने का आरोप लगाते हुए लोकसभा में बुधवार को एक कांग्रेस सदस्य ने कहा कि कश्मीर से हिंदू पंडितों को विस्थापन के लिए मजबूर किए जाने के बाद अब वहां रह रहे सिखों को भी बाहर निकाला जा रहा है.

कांग्रेस के रवनीत सिंह ने सदन में शून्यकाल के दौरान यह मामला उठाते हुए कहा कि पाकिस्तान भारत में गड़बड़ियां फैला रहा है. उन्होंने कहा कि श्रीनगर में सिखों को खतरा पैदा हो गया है. पहले वहां से हिंदू पंडितों को अपने घरबार छोड़ने को मजबूर किया गया और अब सिखों को भी बाहर निकाला जा रहा है.

उन्होंने कहा कि इसी प्रकार पंजाब में लगातार सामाजिक वैमनस्य फैलाने वाली घटनाएं हो रही हैं. उन्होंने कहा कि फिर चाहे यह सिखों के पवित्र धर्म ग्रंथ गुरुग्रंथ साहिब की बेअदबी की घटना हो या कुरान को अपवित्र किए जाने की घटना है. सिंह ने कहा कि पिछले दिनों राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के एक नेता को पंजाब में निशाना बनाया गया. इस घटना को लेकर प्रधानमंत्री कार्यालय लगातार पंजाब सरकार के संपर्क में था.

टिप्पणियां

उन्होंने कहा कि पंजाब में अर्धसैनिक बलों की तैनाती की जाए और आईबी को सतर्क रहने को कहा जाए. उन्होंने कहा कि पंजाब पहले ही आतंकवाद का दंश झेल चुका है लेकिन अब उसे फिर से आग में धकेले जाने से बचाने की जरूरत है. उन्होंने गृह मंत्री से राज्य में जल्द एक केंद्रीय दल भेजे जाने की मांग की. उन्होंने कहा कि इससे पंजाब सरकार का हौसला बढ़ेगा और शांति बनाए रखने में मदद मिलेगी.


(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)



NDTV.in पर हरियाणा (Haryana) एवं महाराष्ट्र (Maharashtra) विधानसभा के चुनाव परिणाम (Assembly Elections Results). इलेक्‍शन रिजल्‍ट्स (Elections Results) से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरेंं (Election News in Hindi), LIVE TV कवरेज, वीडियो, फोटो गैलरी तथा अन्य हिन्दी अपडेट (Hindi News) हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement