NDTV Khabar

लूटपाट की घटनाओं बाद कश्मीर की 40 बैंक शाखाओं में ट्रांजेक्शन पर रोक

दक्षिण कश्मीर में उग्रवादियों द्वारा बैंकों को निशाना बनाए जाने की घटनाओं को देखते हुये पुलवामा और शोपियां जिलों के संवेदनशील इलाकों में करीब 40 बैंक शाखाओं पर नकद लेन-देन पर रोक लगा दी गई है. हालांकि, बैंक शाखाओं में नकदीरहित लेनदेन और एटीएम सेवायें जारी रहेंगी. इन इलाकों के लोग निकट की दूसरी प्राधिकृत बैंक शाखाओं में नकद लेनदेन भी कर सकेंगे.

1Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
लूटपाट की घटनाओं बाद कश्मीर की 40 बैंक शाखाओं में ट्रांजेक्शन पर रोक

आतंकियों ने सबसे ज्यादा निशाना जम्मू एंड कश्मीर बैंक को बनाया है.

श्रीनगर: दक्षिण कश्मीर में उग्रवादियों द्वारा बैंकों को निशाना बनाए जाने की घटनाओं को देखते हुये पुलवामा और शोपियां जिलों के संवेदनशील इलाकों में करीब 40 बैंक शाखाओं पर नकद लेन-देन पर रोक लगा दी गई है. हालांकि, बैंक शाखाओं में नकदीरहित लेनदेन और एटीएम सेवायें जारी रहेंगी. इन इलाकों के लोग निकट की दूसरी प्राधिकृत बैंक शाखाओं में नकद लेनदेन भी कर सकेंगे. आतंकियों ने सबसे ज्यादा निशाना जम्मू एंड कश्मीर बैंक को बनाया है. 8 नवंबर के बाद से 9 बार आतंकियों ने हमला किया है और करीब 50 लाख रुपये लूटकर ले जा चुके हैं.

यह कदम सुरक्षा एजेंसियों द्वारा परामर्श जारी करने के बाद उठाया गया है. इन दो जिलों के संवेदनशील इलाकों में काम करने वाले बैंकों से अपनी शाखाआें पर नकद आपूर्ति बंद करने के लिए कहा गया है क्योंकि इन पर हमला होने की संभावना ज्यादा है. जम्मू एंड कश्मीर बैंक और इलाकाई देहाती बैंक की शाखाओं ने नकद लेनदेन को रोक दिया. हाल ही में उग्रवादियों ने इन बैंकों की शाखाओं को निशाना बनाया था. जम्मू एंड कश्मीर बैंक के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि हालांकि, एटीएम सहित अन्य बैंकिंग सेवाएं इन इलाकों में चालू रहेंगी.

हाल ही में दक्षिण कश्मीर के कुलगाम जिले में आतंकवादियों ने 1 मई को बैंक की नकदी लेकर जा रहे एक वैन से बाहर खींच कर पांच पुलिसकर्मियों सहित सात लोगों की गोली मारकर हत्या कर दी थी. दमहाल हांजी पोरा से कुलगाम स्थित मुख्यालय लौट रहे जम्मू-कश्मीर बैंक के नकद वैन को दोपहर हथियारों से लैस आतंकवादियों ने घेरकर गोली मार दी थी.

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement