NDTV Khabar

शनिवार को पाकिस्तान को सुषमा ने सुनाई खरी-खोटी, रविवार को पीएम मोदी ने भी चेताया

इससे पहले यूएन महासभा को संबोधित करते हुए विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने भी पाकिस्तान को जमकर खरी-खोटी सुनाई थी.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
शनिवार को पाकिस्तान को सुषमा ने सुनाई खरी-खोटी, रविवार को पीएम मोदी ने भी चेताया

पीएम मोदी ने आज मन की बात कार्यक्रम में सेना की तारीफ की है

खास बातें

  1. 'मन की बात' में बोले पीएम मोदी
  2. सेना अब मुंहतोड़ जवाब देगी
  3. सुषमा ने शनिवार को सुनाई थी खरी-खोटी
नई दिल्ली:

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने 'मन की बात' कार्यक्रम में पाकिस्तान को साफ संदेश दिया है. उन्होंने अब यह तय हो चुका है कि हमारे सैनिक उन सबको मुंहतोड़ ज़वाब देंगे जो हमारे राष्ट्र में शांति और उन्नति के माहौल को नष्ट करने का प्रयास करेंगे. पीएम ने कहा, 'हम शांति पर विश्वास करते हैं लेकिन आत्मसम्मान की कीमत पर कतई नहीं'. इस बार के रेडियो कार्यक्रम को सर्जिकल स्ट्राइक और सेना के जवानों पर केंद्रित रखते हुए पीएम मोदी ने कहा कि 'पराक्रम पर्व' जैसा दिवस युवाओं को हमारी सशस्त्र सेना के गौरवपूर्ण विरासत की याद दिलाता है और देश की एकता और अखंडता सुनिश्चित करने के लिए हमें प्रेरित भी करता है. पीएम ने कहा, 'भारत सदा ही शांति के प्रति वचनबद्ध और समर्पित रहा है. 20वीं सदी में दो विश्वयुद्धों में हमारे एक लाख से अधिक सैनिकों ने शांति के प्रति अपना सर्वोच्च बलिदान दिया. आज भी यूएन की अलग-अलग शांति रक्षक सेना में भारत सबसे अधिक सैनिक भेजने वाले देशों में से एक है.

भारत ने UN में पाकिस्तानी विदेश मंत्री के बयान को बताया घृणित, कहा- जम्मू-कश्मीर हमारा अभिन्न अंग


पीएम मोदी ने नेवी अधिकारी अभिलाष टॉमी का जिक्र करते हुए कहा कि पिछले दिनों नेवी के हमारे एक अधिकारी अभिलाष टॉमी अपने जीवन और मृत्यु की लड़ाई लड़ रहे थे. मैंने अभिलाष से टेलीफोन पर बात की. इतने संकट से बाहर आने के बाद भी उनका जो ज़ज्बा था, हौसला था और फिर एक बार ऐसा ही कुछ पराक्रम करने का जो संकल्प उन्होंने बताया, देश की युवा-पीढ़ी के लिए वो हमारे देश की युवा-पीढ़ी को ज़रूर प्रेरणा देगी.

UN में बोलीं सुषमा स्वराज, 'पाकिस्तान हत्यारों का महिमामंडन करता है और उसे निर्दोषों का खून नहीं दिखता'

टिप्पणियां

इससे पहले यूएन महासभा को संबोधित करते हुए विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने भी पाकिस्तान को जमकर खरी-खोटी सुनाई थी. विदेश मंत्री ने कहा कि न्यूयॉर्क में 9/11 की घटना और मुंबई में 26/11 की घटना ने शांति की उम्मीदों को बर्बाद कर दिया है. उन्होंने कहा कि भारत इसका शिकार हो रहा है और भारत में आतंकवाद की चुनौती हमारे पड़ोसी देश के अलावा किसी और से नहीं आ रही है. अपने संबोधन के दौरान सुषमा ने कहा कि पाकिस्तान ऐसा देश है जिसे आतंकवाद फैलाने के साथ-साथ अपने किए को नकारने में भी महारथ हासिल है. 
सुषमा का भाषण

सुषमा ने कहा कि भारत हमेशा बातचीत से मुद्दों को सुलझाने का पैरोकार रहा है, लेकिन पाकिस्तान हमेशा धोखा देता है. उन्होंने कहा, हम मानते हैं कि बातचीत से जटिल से जटिल मुद्दे सुलझाए जा सकते हैं, पाक के साथ वार्ताओं के दौर चले हैं, लेकिन हर बार पाकिस्तान की हरकतों के चलते बातचीत रुकी.



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement