साइक्लोन 'अम्फान' के बाद लोगों के बीच बढ़ रहे गुस्से पर ममता बनर्जी ने कहा, 'मेरा सिर काट लीजिए'

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने शनिवार को कहा कि उन्हें बिजली आपूर्ति सुचारू रूप से शुरू करने के लिए समय चाहिए.

साइक्लोन 'अम्फान' के बाद लोगों के बीच बढ़ रहे गुस्से पर ममता बनर्जी ने कहा, 'मेरा सिर काट लीजिए'

ममता बनर्जी ने कहा,' इस भयानक तबाही को सिर्फ दो ही दिन बीते हैं. हम दिन रात काम कर रहे हैं.'

कोलकाता :

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने शनिवार को कहा कि उन्हें बिजली आपूर्ति सुचारू रूप से शुरू करने के लिए समय चाहिए. मुख्यमंत्री ने इसी तरह अन्य जरूरत की चीजों के लिए भी वक्त मांगा है. गौरतलब है कि अम्फान तूफान ने पश्चिम बंगाल में भारी तबाही मचाई है. जिसके चलते राज्य को तकरीबन एक लाख करोड़ रुपए तक का नुकसान हुआ है. 

ममता बनर्जी ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा,' इस भयानक तबाही को सिर्फ दो ही दिन बीते हैं. हम दिन रात काम कर रहे हैं. कृपया धैर्य रखें. हम कोशिश कर रहे हैं कि सब चीजें पहले की तरह हो जाएं.' जब उनसे लोगों के बीच बढ़ते गुस्से के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा, 'मैं सिर्फ एक ही चीज कह सकती हूं कि मेरा सिर काट लीजिए.' बता दें कि पश्चिम बंगाल सरकार ने आपदा राहत कार्य के लिए सेना की मदद ली है.

कोलकाता में बिजली आपूर्ति न होने के कारण सैकड़ों लोग विरोध करने के लिए सड़कों पर उतर आए.  बैरकपुर-सोदेपुर बाइपास पर पुलिस और लोगों के बीच रोड ब्लॉक करने को लेकर तनातनी रही. इसी तरह दक्षिण कोलकाता में भी कस्बा और गरिया में लोगों ने रोड ब्लॉक किया. हावड़ा में लोगों ने कोना एक्सप्रेसवे को ब्लॉक किया.

बता दें कि चक्रवात तूफान से पश्चिम बंगाल में 86 लोगों की मौत हो गई है. चक्रवात से कई इलाकों में बाढ़ आ गई है और बिजली चली गई है. पुलिस के मुताबिक तकरीबन 5,000 लोगों ने विरोध प्रदर्शन में हिस्सा लिया. स्थिति यह है कि अभी भी कई जगहों पर पेड़ गिरे हुए हैं और अलग-अलग हिस्सों में बिजली आपूर्ति दोबारा शुरू करने के लिए कोशिश की जा रही है. 

अम्फान से हुई तबाही से उबरने के लिए सेना ने बंगाल में शुरू किया राहत कार्य

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com