पीएम मोदी के साथ ट्वीट आदान-प्रदान के बाद देवड़ा ने राजनीतिक भविष्य की अटकलों को बताया निराधार

देवड़ा ने मोदी के टेक्सास के भाषण की प्रशंसा की थी. प्रधानमंत्री ने उनके ट्वीट का जवाब देते हुए मिलिंद के पिता और अपने दिवंगत मित्र मुरली देवड़ा की अमेरिका के साथ मजबूत संबंधों की प्रतिबद्धता को याद किया था.

पीएम मोदी के साथ ट्वीट आदान-प्रदान के बाद देवड़ा ने राजनीतिक भविष्य की अटकलों को बताया निराधार

नई दिल्ली:

कांग्रेस नेता मिलिंद देवड़ा (Milind Deora) ने मंगलवार को कहा कि उनके भविष्य के राजनीतिक कदम के बारे में जो अटकलें लगायी जा रही हैं वे निराधार हैं. देवड़ा ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अमेरिका यात्रा की सराहना करते हुए ट्वीट किया था और इस पर प्रधानमंत्री ने जवाबी ट्वीट किया था. देवड़ा ने मोदी के टेक्सास के भाषण की प्रशंसा की थी. प्रधानमंत्री ने उनके ट्वीट का जवाब देते हुए मिलिंद के पिता और अपने दिवंगत मित्र मुरली देवड़ा की अमेरिका के साथ मजबूत संबंधों की प्रतिबद्धता को याद किया था. प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता सचिन सावंत ने यहां संवाददाताओं से कहा कि देवड़ा की टिप्पणी पर AICC जवाब देगी. 

पीएम मोदी के Howdy Modi इवेंट में इस कॉमेडियन को नहीं मिली एंट्री, देखें वायरल वीडियो

देवड़ा ने एक बयान में कहा कि उन्हें भारत-अमेरिका संबंधों की विरासत अपने पिता मुरली देवड़ा से मिली है. उन्होंने कहा, ‘‘मेरे पिता पहली बार 1968 में आदान-प्रदान (एक्सचेंज) छात्र के रूप में अमेरिका गए थे और रॉबर्ट एफ कैनेडी से मिलने के बाद सार्वजनिक जीवन में आने और दोनों लोकतंत्रों के बीच मजबूत संबंध बनाने का फैसला किया. संस्थानों, राजनीतिक दलों और नेताओं के साथ मेरे परिवार के रिश्ते भारत के हितों को ध्यान में रखते हुए बनाए गए थे.'' 

अमेरिका के सबसे महत्वपूर्ण मित्रों और साझेदारों में से एक है भारत: सीनेटर कॉर्निन

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

देवड़ा ने कहा कि उनके पिता के प्रयासों और रिश्तों ने भारत के राष्ट्रीय हितों को मजबूत बनाने में मदद की. उन्होंने कहा, “मेरे दिवंगत पिता ने भारतीय प्रधानमंत्रियों और अमेरिकी राष्ट्रपतियों के साथ मिलकर दलगत भावना से ऊपर उठकर काम किया.'' उन्होंने कहा कि उन्हें विरासत में मिले अनुभव और रिश्तों का बहुत मतलब नहीं है, अगर उनसे भारत को लाभ नहीं हो. उन्होंने कहा, ‘‘अंत में, मैं अपना पिता का पुत्र हूं. मित्रता उनकी राजनीति का आधार थी. इसने हमें भुवनेश्वर से बोस्टन और वाल्केश्वर से वाशिंगटन तक मित्र और शुभचिंतक मिले. मैं अपने मूल विश्वासों से समझौता नहीं करूंगा...''

VIDEO: ह्यूस्टन में 'हाउडी मोदी' कार्यक्रम में पीएम मोदी का पूरा भाषण
  



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)