शरद यादव की बेटी सुभाषिनी ने थामा कांग्रेस का 'हाथ', बिहार विधानसभा चुनाव में मिल सकता है टिकट

इस मौके पर कांग्रेस प्रवक्ता पवन खेड़ा ने कहा, ‘‘हमें गर्व है कि सुभाषिनी यादव कांग्रेस में शामिल हुई हैं. उनके पिता का भारत के संसदीय लोकतंत्र में बहुत बड़ा योगदान है.’’

शरद यादव की बेटी सुभाषिनी ने थामा कांग्रेस का 'हाथ', बिहार विधानसभा चुनाव में मिल सकता है टिकट

सुभाषिनी यादव बिहार विधानसभा में कांग्रेस के टिकट पर चुनाव लड़ सकती हैं

खास बातें

  • लोजपा नेता काली पांडे भी कांग्रेस में शामिल हुए
  • दिल्‍ली में कांग्रेस की सदस्‍यता ग्रहण की
  • बिहार में कांग्रेस पार्टी का राजद के साथ है गठबंधन
नई दिल्‍ली:

Bihar Assembly Elections 2020: लोकतांत्रिक जनता दल के नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री शरद यादव (Sharad Yadav) की पुत्री सुभाषिनी यादव (Subhashini Yadav) बुधवार को कांग्रेस (Congress) में शामिल हो गईं.उनके साथ ही लोजपा के वरिष्ठ नेता काली पांडे भी कांग्रेस में शामिल हो गए. माना जा रहा है कि सुभाषिनी बिहार विधानसभा चुनाव (Bihar Assembly polls) में कांग्रेस के टिकट पर चुनाव भी लड़ सकती हैं.

इन विधानसभा चुनावों में बिहार को क्या दे सकती है BJP?

सुभाषिनी और काली पांडे ने कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं पवन खेड़ा, देवेंद्र यादव और अजय कपूर की मौजूदगी में पार्टी की सदस्यता ली.इस मौके पर कांग्रेस प्रवक्ता खेड़ा ने कहा, ‘‘हमें गर्व है कि सुभाषिनी यादव कांग्रेस में शामिल हुई हैं. उनके पिता का भारत के संसदीय लोकतंत्र में बहुत बड़ा योगदान है.''

नीतीश कुमार ने तेजस्वी को अनुभवहीन कहा, अब सुनिए तेजस्वी का जवाब 

गौरतलब है कि शरद यादव अपनी पार्टी गठित करने से पहले जनता दल यूनाइटेड (JDU) में थे और उन्होंने पार्टी का अध्यक्ष रहने के साथ कई वर्षों तक NDA के संयोजक की भूमिका भी निभाई.वर्ष 2017 में पार्टी विरोधी गतिविधियों में शामिल होने के कारण शरद यादव को JDU से निकाल दिया गया था. इसके बाद उन्होंने लोकतांत्रिक जनता दल का गठन किया.साल 2019 के लोकसभा चुनाव में वह महागठबंधन का हिस्सा थे और इसी के बैनर तले मधेपुरा से चुनाव भी लड़ा था लेकिन उन्हें हार का सामना करना पड़ा.

Newsbeep

बिहार का दंगल: नीतीश के गढ़ में बदलाव की हवा

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com




(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)