Khabar logo, NDTV Khabar, NDTV India

सुनंदा पुष्कर मामले में एम्स के मेडिकल बोर्ड ने पुलिस जांच पर उठाए सवाल

ईमेल करें
टिप्पणियां

close

नई दिल्ली: दक्षिणी दिल्ली के एक होटल के कमरा नंबर 345 के राज धीरे-धीरे खुल रहे हैं। होटल में 17 जनवरी 2014 को सुनंदा पुष्कर का शव मिला था। इस मामले में एनडीटीवी इंडिया को सूत्रों से उस रिपोर्ट की कुछ अहम जानकारियों मिली है, जो एम्स ने 29 दिसंबर को पुलिस को सौंपी थी।

इस रिपोर्ट में कहा गया कि सुनंदा की मौत के पहले होटल के कमरे में झगड़ा हुआ था। यही नहीं पुलिस की जांच पर भी इस रिपोर्ट में कई अहम सवाल खड़े किए गए हैं।

सूत्रों की मानें तो 29 दिसंबर 2014 को एम्स के फोरेंसिक विभाग ने दिल्ली पुलिस को जो रिपोर्ट सौंपी उसमें कहा गया कि एम्स की टीम ने जब रूम नंबर 345 की जांच की तो पाया कि सुनंदा के कमरे में कांच का एक टूटा हुआ ग्लास रखा था। सुनंदा के हाथ में दांत से काटने का निशान था। इसके अलावा किसी नुकीली चीज से किया गया एक और चोट का निशान मिला।

इससे साफ है कि मौत से पहले वहां झगड़ा हुआ था। सुनंदा के बिस्तर पर यूरिन का भी निशान था, जिससे लगता है कि वह काफी पहले से बेहोश या नींद में थीं।

एम्स ने पुलिस की जांच पर भी कई गंभीर सवाल खड़े किए हैं मेडिकल बोर्ड की रिपोर्ट में कहा गया है कि पुलिस ने ऐसे कई सबूतों को न तो ऑन रिकॉर्ड लिया और न ही ये एम्स की टीम को मुहैया कराए गए। इसी रिपोर्ट के आधार पर दिल्ली पुलिस ने अज्ञात लोगों के खिलाफ हत्या का केस दर्ज किया है।


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement

 
 

Advertisement