NDTV Khabar

ओवैसी ने भीड़ हत्या पर टिप्पणी के लिए मोहन भागवत की आलोचना की, कही यह बात

मोहन भावगत ने कहा था कि भीड़ हत्या (लिंचिंग) ‘पश्चिमी तरीका’ है और देश को बदनाम करने के लिए इसका भारत के परिप्रेक्ष्य में इस्तेमाल नहीं करना चाहिए.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
ओवैसी ने भीड़ हत्या पर टिप्पणी के लिए मोहन भागवत की आलोचना की, कही यह बात

हैदराबाद से सांसद असदुद्दीन ओवैसी

खास बातें

  1. मोहन भावगत ने कहा था कि भीड़ हत्या ‘पश्चिमी तरीका’ है
  2. उन्होंने कहा कि इसका भारत के परिप्रेक्ष्य में इस्तेमाल नहीं करना चाहिए
  3. AIMIM नेता ओवैसी ने कहा कि भीड़ हत्या के ‘पीड़ित भारतीय’ हैं
हैदराबाद:

ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी (Asaduddin owaisi) ने मंगलवार को राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रमुख मोहन भागवत के उस बयान की आलोचना की जिसमें उन्होंने मॉब लिंचिंग को भारत को बदनाम करने वाला बताया था. मोहन भावगत ने कहा था कि भीड़ हत्या (लिंचिंग) ‘पश्चिमी तरीका' है और देश को बदनाम करने के लिए इसका भारत के परिप्रेक्ष्य में इस्तेमाल नहीं करना चाहिए.  AIMIM नेता ओवैसी ने कहा कि भीड़ हत्या के ‘पीड़ित भारतीय' हैं. उन्होंने आरोप लगाया कि भागवत भीड़ हत्या रोकने के लिए नहीं कह रहे हैं. 

ओवैसी ने कांग्रेस पर साधा निशाना, कहा- कैल्शियम का इंजेक्शन देकर भी उसे...

हैदराबाद से सांसद ओवैसी ने कहा, ‘(भीड़ हत्या के) पीड़ित भारतीय हैं. (भीड़ हत्या के) दोषियों को किसने माला पहनाई थी, किसने उन्हें (तिरंगे में) लपेटा था. हमारे पास गोडसे प्रेमी भाजपा सांसद हैं.' ओवैसी ने ट्वीट किया कि गांधी और तबरेज़ अंसारी की हत्या जिस विचारधारा ने की उसकी तुलना में भारत की बड़ी बदनामी और कोई कुछ नहीं हो सकती. वहीं भागवत भीड़ हत्या रोकने के लिए नहीं कह रहे हैं. वह कह रहे हैं कि इसे वो (लिंचिंग) मत कहो. 


ओवैसी बोले- गोडसे ने तो गांधी को गोली मारी थी, लेकिन मौजूदा गोडसे तो गांधी के हिंदुस्तान को कर रहे हैं खत्म

गौरतलब है कि नागपुर में मंगलवार सुबह आरएसएस की विजयादशमी रैली को संबोधित करते हुए भागवत ने कहा कि भारतीय परिप्रेक्ष्य में लिंचिंग शब्द का इस्तेमाल करना गलत है. यह शब्द भारत को बदनाम करने के लिए इस्तेमाल किया जा रहा है.

टिप्पणियां

Video: लोकसभा में बोले ओवैसी- 'क्या अब मैं हिमाचल प्रदेश में खेत खरीद सकता हूं?'



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement