NDTV Khabar

वायुसेना कम वक्त में भी हर तरह के ऑपरेशन के लिए तैयार है : एयर चीफ मार्शल

वायुसेना प्रमुख ने कहा कि कारगिल के वक्त की वायुसेना और आज की वायुसेना में जमीन-आसमान का अंतर है.

560 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
वायुसेना कम वक्त में भी हर तरह के ऑपरेशन के लिए तैयार है : एयर चीफ मार्शल

एयर चीफ मार्शल ने कहा कि आज सरकार जो भी कहेगी, वायुसेना उसे करके दिखाएगी

नई दिल्ली: वायुसेना प्रमुख एयरचीफ मार्शल बीएस धनोआ ने कारगिल विजय दिवस के मौके पर NDTV इंडिया से खास बातचीत में कहा कि वायुसेना कम वक्त में भी हर तरह के ऑपरेशन के लिए तैयार है. वायुसेना प्रमुख ने ये जवाब तब दिया जब उनसे ये पूछा गया कि कारगिल के वक्त तो केवल पाकिस्तान से चुनौती मिलती थी और अब तो उसके साथ चीन भी आ गया है.

वायुसेना प्रमुख ने कहा कि कारगिल के वक्त की वायुसेना और आज की वायुसेना में जमीन-आसमान का अंतर है. अब मिग-21 लड़ाकू विमन को छोड़ दें, तो तकरीबन हर लड़ाकू विमान रात के समय में भी हमला कर सकता है. इससे हमारी क्षमता काफी बढ़ गई है. जो उस वक्त कमियां थीं, उसे काफी हद तक दूर कर ली गई हैं.
यह भी पढ़ें
कारगिल युद्ध में IAF पायलट ने उस पाक सैन्य अड्डे को लिया था निशाने पर, जहां मौजूद थे नवाज-मुशर्रफ

धनोआ ने कहा कि अब वायुसेना के पास यूएवी आ गए हैं. वहीं मानव रहित विमान से छोटी से छोटी पोस्ट को चिन्हित करने की ताकत भी वायुसेना ने हासिल कर ली है. सैकड़ों किलोमीटर दूर टारगेट को भी आसानी से निशाना बनाया जा सकता है. आज सरकार जो भी कहेगी, वायुसेना उसे करके दिखाएगी.

VIDEO : 'कारगिल युद्ध के समय वायुसेना को एलओसी क्रॉस करने से मना किया गया था'

जब वायुसेना प्रमुख से ये पूछा गया कि क्या कारगिल जंग के दौरान नवाज शरीफ और मुशर्रफ वायुसेना के निशाने पर थे, तो वायुसेना प्रमुख कुछ भी सीधे तौर पर कहने से बचे. उन्होंने कहा कि हमें एलओसी पार करने की इजाजत नहीं थी. लड़ाई राजनीति लक्ष्य हासिल करने के लिए थी, जो हासिल की गई. दुनिया को हमने दिखा दिया कि कारगिल की पहाड़ियों पर हमला पाकिस्तान ने किया था.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement