NDTV Khabar

पेट्रोल की चोरी को 'वोट की चोरी' से ऐसे जोड़ा अखिलेश यादव ने, उठाया यह सवाल

1.3K Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
पेट्रोल की चोरी को 'वोट की चोरी' से ऐसे जोड़ा अखिलेश यादव ने, उठाया यह सवाल

यूपी के पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने ईवीएम पर सवाल उठाए हैं.

खास बातें

  1. सबसे पहले बीएसपी सुप्रीमो मायावती ने आवाज उठाई.
  2. समाजवादी पार्टी को भी करारी हार का सामना करना पड़ा
  3. ईवीएम को सवालों के घेरे में खड़ा कर दिया.
नई दिल्ली:
टिप्पणियां
हाल में संपन्न विधानसभा चुनावों में यूपी के चुनाव में मिलती बड़ी हार देख सबसे पहले बीएसपी सुप्रीमो मायावती ने आवाज उठाई कि ईवीएम में गड़बड़ी के चलते पार्टी हार रही है. शाम होते होते समाजवादी पार्टी को भी करारी हार का सामना करना पड़ा और तत्कालीन मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने भी बुआ (मायावती) का साथ दिया और ईवीएम को सवालों के घेरे में खड़ा कर दिया. 

उधर, पंजाब और गोवा में हार झेलने वाली आम आदमी पार्टी और पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल ने भी ईवीएम पर कई सवाल दागे और हार के लिए ईवीएम को जिम्मेदार ठहराया. 
 
इन सबके बीच चुनाव आयोग लगातार अपने दावों पर अडिग रहा और अपने पूर्ववत के बयान कि ईवीएम से छेड़छाड़ संभव नहीं है. 
  लेकिन शनिवार को यूपी एसटीएफ की कार्रवाई में कई पेट्रोल पंप पर रिमोट से पेट्रोल की मात्रा नियंत्रित करने का तरीका सार्वजनिक हुआ. पुलिस ने पेट्रोल पंप सील कर दिए. इस घटना के बाद पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने ट्वीट कर कहा कि जब रिमोट के द्वारा चिप से पेट्रोल की चोरी बिना किसी इंटरनेट कनेक्शन के हो सकती है तो ईवीएम से भी ऐसा हो सकता है. अखिलेश ने लिखा कि टेक्नोलॉजी का गलत इस्तेमाल रोकना होगा.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement