उन्नाव में रेप पीड़िता को जलाने पर अखिलेश यादव ने साधा योगी सरकार पर निशाना, कहा- BJP सरकार सामूहिक इस्तीफा दे

उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने ट्वीट कर लिखा "उन्नाव की दुष्कर्म पीड़िता को जिंदा जलाये जाने के दुस्साहस की नैतिक ज़िम्मेदारी लेते हुए प्रदेश की भाजपा सरकार का सामूहिक इस्तीफ़ा होना चाहिए. 

उन्नाव में रेप पीड़िता को जलाने पर अखिलेश यादव ने साधा योगी सरकार पर निशाना, कहा- BJP सरकार सामूहिक इस्तीफा दे

अखिलेश यादव ने राज्य सरकार से मांगा त्यागपत्र

नई दिल्ली:

उन्नाव जिले में बलात्कार पीड़िता को जिंदा जलाने की कोशिश की घटना पर विपक्ष ने उत्तर प्रदेश सरकार पर गुरुवार को जमकर हमला बोला. उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने ट्वीट कर लिखा "उन्नाव की दुष्कर्म पीड़िता को जिंदा जलाये जाने के दुस्साहस की नैतिक ज़िम्मेदारी लेते हुए प्रदेश की भाजपा सरकार का सामूहिक इस्तीफ़ा होना चाहिए.  माननीय न्यायालय से गुहार है कि वो इस घटना की गंभीरता को देखते हुए पीड़िता के समुचित उपचार व सुरक्षा की तत्काल व्यवस्था के निर्देश दे.

घटना पर कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी ने ट्वीट कर लिखा , "कल देश के गृह मंत्री और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री ने साफ-साफ झूठ बोला कि यूपी की क़ानून व्यवस्था अच्छी हो चुकी है. हर रोज ऐसी घटनाओं को देखकर मन में रोष होता है. भाजपा नेताओं को भी अब फर्जी प्रचार से बाहर निकलना चाहिए."

उन्नाव में रेप पीड़िता को जिंदा जलाने की घटना को लेकर प्रियंका गांधी ने अमित शाह और CM योगी पर साधा निशाना

वहीं उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस घटना का संज्ञान लेते हुए अधिकारियों को निर्देशित किया है कि पीड़िता को सरकारी खर्च पर हर सम्भव चिकित्सा सुविधा प्रदान की जाए. उन्होंने जिला प्रशासन एवं पुलिस के अधिकारियों को आदेश दिया है कि आरोपियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई कर अदालत से सजा दिलवाई जाए.

उन्नाव: सुनवाई के लिए कोर्ट जा रही थी रेप पीड़िता, गांव के बाहर आरोपी ने साथियों के साथ केरोसिन छिड़क जिंदा जलाया

सरकारी प्रवक्ता के मुताबिक मुख्यमंत्री ने लखनऊ मण्डलायुक्त और पुलिस महानिरीक्षक को तत्काल घटना स्थल का निरीक्षण कर आज शाम तक अपनी रिपोर्ट सौंपने को भी कहा है. पुलिस ने बताया कि मामले में सभी पांच आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है. पीड़िता ने सुमेरपुर अस्पताल में एसडीएम दयाशंकर पाठक के सामने बयान दिया कि घर से निकलकर वह गौरा मोड़ के पास पहुंची थी तभी पहले से मौजूद गांव के हरिशंकर त्रिवेदी, रामकिशोर त्रिवेदी, उमेश बाजपेयी और रेप के आरोपित शिवम त्रिवेदी, शुभम त्रिवेदी ने उस पर हमला कर दिया और उस पर पेट्रोल डालकर आग लगा दी. पीड़िता का आरोप है कि आरोपी मुकदमा वापस लेने के लिए उस पर दबाव डाल रहे थे.

Newsbeep

VIDEO:उन्नाव केस: बंद कमरे में दर्ज हुई पीड़िता का बयान, लगाया था रेप का आरोप

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com




(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)