NDTV Khabar

NDTV से बोले अखिलेश यादव- 2019 में सपा-बसपा साथ चुनाव लड़ेगी

अखिलेश यादव ने एनडीटीवी से बात करते हुए कहा कि 2019 में भी सपा-बसपा साथ मिलकर चुनाव लड़ेगी.

3K Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
NDTV से बोले अखिलेश यादव- 2019 में सपा-बसपा साथ चुनाव लड़ेगी

अखिलेश यादव ने कहा कि मायावती ने गठजोड़ के ख़िलाफ़ कुछ नहीं कहा है.

खास बातें

  1. मैंने गठजोड़ की पहल की : अखिलेश
  2. कहा- गठजोड़ को नेताजी का आशीर्वाद
  3. बोले-नेताओं के ज़रिए मायावती तक पहुंचा
नई दिल्ली: गोरखपुर और फूलपुर में बीएसपी के साथ गठजोड़ कर बीजेपी को धूल चटाने के बाद समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने खुलासा किया है कि इस गठजोड़ के लिए पहल उन्होनें की और वो गठबंधन के लिए एक कदम पीछे हटने को भी तैयार हैं. बीएसपी के साथ मिलकर लोकसभा चुनाव लड़ने का फैसला दोहराते हुए अखिलेश ने बीजेपी से सबक लेने की बात कही. इसके अलावा उन्होनें अमित शाह के विपक्षी दलों की तुलना कुत्ता बिल्ली सांप और नेवले से करने पर भी बीजेपी को जवाब दिया. अखिलेश यादव ने एनडीटीवी से बात करते हुए कहा कि 2019 में भी सपा-बसपा साथ मिलकर लड़ेगी. 

VIDEO : BSP से गठजोड़ की पहल मैंने की: अखिलेश यादव


अखिलेश यादव ने कहा कि 2019 में बीएसपी-सपा साथ लड़ेंगे. उन्होंने कहा कि मायावती ने गठजोड़ के ख़िलाफ़ कुछ नहीं कहा है. मैंने गठजोड़ की पहल की. यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि दोनों पार्टियों के गठजोड़ को नेताजी (मुलायम सिंह यादव) का आशीर्वाद है. इसके आने वाले दिनों में होने वाले एमएलसी चुनावों पर भी अखिलेश यादव ने बात की. उन्होंने कहा कि वे एमएलसी चुनाव नहीं लड़ेंगे.  

टिप्पणियां
अखिलेश यादव ने इस दौरान 2017 में हुए यूपी चुनाव परिणाम की भी बात की. उन्होंने कहा कि जो भी परिणाम आया उसके लिए मैं जनता को धन्यवाद देना चाहता हूं. 2017 ने बहुत कुछ सीखाने-सीखने का मौका दिया है. शायद राजनीति में यह पल आना जरूरी होता है कि आप एक बार हारे. शायद हार ही आपको आने वाले समय का रास्ता दिखाएगी. जब उनसे चुनाव हारने का कारण पूछा गया तो उन्होंने कहा कि अगर बीजेपी जात और धर्म का बात रही थी, तो हमें भी इसकी बात करनी चाहिए थी. 

परिवार में चल रही दूरियों के बारे में उन्होंने कहा कि अह सभी गिले-शिकवे दूर हो चुके हैं. उन्होंने कहा कि हमारा परिवार एकदम ठीक है. सभी के साथ अब संबंध बहुत अच्छे हैं. पिता के साथ एक पुत्र का जैसा संबंध होना चाहिए, वैसा ही मेरा है. वैसे ही रहेगा. अभी भी मैं उनसे मिलकर आया हूं. मैं लगातार उनसे मिलता हूं. नेताजी (मुलायम सिंह यादव) ने अब आशीर्वाद दे दिया है और जब वह आशीर्वाद दे देते हैं तो रास्ता एकदम साफ हो जाता है. उन्होंने कहा कि नेताजी ने बसपा गठबंधन को भी आशीर्वाद दिया है. नेताजी ने मुझसे कहा कि गठबंधन अच्छा फैसला है. अब हमारे परिवार में सब कुछ ठीक है.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement