पाकिस्‍तान में कैद किए गए भारतीय सैनिक को छुड़ाने के सभी प्रयास किए जा रहे : राजनाथ

पाकिस्‍तान में कैद किए गए भारतीय सैनिक को छुड़ाने के सभी प्रयास किए जा रहे : राजनाथ

राजनाथ सिंह (फाइल फोटो)

खास बातें

  • सेना के अनुसार, गलती से LOC के पार चला गया था जवान
  • सर्जिकल हमले का हिस्‍सा नहीं था सैनिक चंदू चौहान
  • पाकिस्‍तान के समक्ष इस मुद्दे को उठाएगा भारत
नई दिल्‍ली.:

भारत अपने सैनिक को रिहा कराने का मुद्दा आधिकारिक तौर पर पाकिस्‍तान के समक्ष उठाएगा. गृह मंत्री राजनाथ सिंह के अनुसार, सेना ने बताया है कि यह सैनिक गुरुवार को गलती से लाइन ऑफ कंट्रोल (एलओसी) के पार चला गया था और इसे गिरफ्तार कर लिया गया.

केंद्रीय गृह मंत्री ने कहा, 'भारत इस मुद्दे को पाकिस्‍तान के समक्ष उठाएगा. पाकिस्‍तान की कैद में आए सैनिक को रिहा कराने के सभी प्रयास किए जा रहे हैं.'भारत की ओर से बुधवार आधी रात को एलओसी के पार सर्जिकल हमले की घोषणा के कुछ घंटों बाद भारतीय सैनिक चंदू बाबूलाल चौहान के पाकिस्‍तान में गिरफ्तार किए जाने की खबर आई. पाकिस्‍तानी अखबार डॉन ने एक भारतीय सैनिक के पकड़े जाने की जानकारी दी थी.

सेना के अनुसार, राष्‍ट्रीय राइफल्‍स का सैनिक चंदू चौहान सर्जिकल हमले का हिस्‍सा नहीं था.यह आर्मी पोस्‍ट पर ड्यूटी पर था और गलती से एलओसी के पार चला गया था. वैसे, सेना के सूत्र बताते हैं कि दोनों देशों के सैनिकों का राह भटककर दूसरे के क्षेत्र में चला जाना कोई नई बात नहीं है. इसका कारण एलओसी के आसपास एक जैसे जंगल और पहाड़ होना है. दोनों देशों की होने वाली बैठक में यह मुद्दे उठाए जाते हैं और उसके बाद सैनिकों को लौटा दिया जाता है, लेकिन सर्जिकल हमले के चलते यह मामला कुछ पेचीदा हो गया है.

गौरतलब है कि सर्जिकल हमले के तहत भारतीय जवान, पाकिस्‍तान के कब्‍जे वाले कश्‍मीर में दो किमी अंदर तक दाखिल हुए थे और आतंकियों के सात लांच पैड पर निशाना साधा था. पाकिस्‍तान ने भारत की ओर से किसी सर्जिकल हमले से इनकार किया है. उसका कहना था कि क्रास बार्डर फायरिंग में दो पाकिस्‍तानी जवानों की मौत हुई है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com