NDTV Khabar

डॉ. करण सिंह यादव : अलवर उपचुनाव में अपने 'पंजे' से 'कमल' को कुचल देने वाले कांग्रेस के दिग्गज नेता

राजस्थान के अलवर से कांग्रेस के डॉ. करण सिंह यादव ने बीजेपी के जसवंत सिंह यादव को करीब 196496 वोटों के अंतर से हरा दिया.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
डॉ. करण सिंह यादव : अलवर उपचुनाव में अपने 'पंजे' से 'कमल' को कुचल देने वाले कांग्रेस के दिग्गज नेता

कांग्रेस के नेता डॉ करण सिंह यादव

खास बातें

  1. अलवर से डॉ करण सिंह यादव जीते.
  2. इन्होंने भाजपा के जसवंत सिंह यादव को हराया.
  3. इससे पहले भी वो सांसद और विधायक रह चुके हैं.
जयपुर: राजस्थान में दो लोकसभा और एक विधानसभा सीटों पर हुए उपचुनाव में कांग्रेस ने बाजी मार ली और बीजेपी को चारों खाने चित कर दिया. अजमेर और अलवर लोकसभा सीटों के साथ-साथ मांडलगढ़ विधानसभा सीट पर कांग्रेस ने अपना कब्जा जमा लिया. राजस्थान के अलवर से कांग्रेस के डॉ. करण सिंह यादव ने बीजेपी के जसवंत सिंह यादव को करीब 196496 वोटों के अंतर से हरा दिया. कांग्रेस के करण सिंह यादव को 642416 वोट मिले. 

अलवर सीट से बीजेपी के जसवंत सिंह को करारी मात देने वाले डॉ. करण सिंह यादव पहली बार सांसद नहीं बने हैं. इससे पहले भी  2004 से 2009 में वो एक बार सांसद रह चुके हैं और दो बार बहरोड़ से विधायक रह चुके हैं. बता दें कि करण सिंह का जन्म 1 जनवरी 1945 को राजस्थान के बीकानेर में हुआ है. 

By-election Results: बीजेपी की चौतरफा हार, कांग्रेस ने राजस्‍थान की तीनों सीटें जीतीं, बंगाल में टीएमसी का कब्‍जा

अलवर सीट से 2014 में महंतचांद नाथ चुनाव जीते थे, उससे पहले भाजपा के ही जसवंत सिंह यादव थे. बता दें कि करण सिंह यादव और उनके प्रतिद्वंदि जसवंत सिंह यादव दोनों डॉक्टर रहे हैं और दोनों यादव समुदाय से आते हैं. 

राजनीति में किस्मत आजमाने से पहले डॉ करण सिंह जयपुर के एसएमएस अस्पताल के मेडिकल सुपरीटेंडेंट भी रह चुके हैं. उसके बाद जब वो राजनीति में आए तो उनका हार-जीत का सिलसिला चलता रहा. राजनीति में उनका कद इतना बड़ा है कि जब अलवर से उपचुनाव में कांग्रेस जीत पक्की करने के इरादे से उतरी तो उसके सामने करण सिंह का चेहरा ही सबसे पहले आया. 

यह भी पढ़ें - राजस्थान उपचुनाव में 'पद्मावत' का हथकंडा भी काम न आया और कांग्रेस ने बीजेपी से छीन ली तीन सीटें

टिप्पणियां
इलेक्शन कमीशन की वेबसाइट पर जारी शपथ पत्र के मुताबिक, साल 2016-17 में डॉ करण सिंह यादव की आय इक्कीस लाख इक्यानवे हजार छ सौ रुपये हैं. वहीं, इनके पास 45 हजार रुपये कैश है. ये किसी तरह के आपराधिक मुकदमें अभियुक्त भी नहीं हैं. बता दें कि यह जीत न सिर्फ करण सिंह यादव के लिए खास है, बल्कि कांग्रेस के लिए भी आगामी चुनावों के मद्देनजर किसी संजीवनी से कम नहीं है. 

VIDEO: राहुल गांधी के जैकेट पर बीजेपी का वार


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement