NDTV Khabar

एनएसजी सदस्यता के मामले के बीच भारत-चीन वित्तीय वार्ता रद्द हुई

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
एनएसजी सदस्यता के मामले के बीच भारत-चीन वित्तीय वार्ता रद्द हुई

वित्तमंत्री अरुण जेटली (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. भारत-चीन के वित्त मंत्रियों की बैठक 27 जून को होने वाली थी
  2. रद्द होने की वजह एनएसजी विवाद को बताया जा रहा है
  3. वित्तमंत्री के तौर पर जेटली का पहला चीन दौरा
बीजिंग:

ताशकंद में पीएम मोदी और चीन के राष्ट्रपति की मुलाकात है जहां भारत की एनएसजी सदस्यता पर चीन को मनाने की कोशिश की जाएगी। इस बीच ये ख़बर आ रही है कि भारत और चीन के वित्त मंत्रियों की 27 जून को होने वाली बैठक टल गई है। बताया जा रहा है कि यह वार्ता इसलिए रद्द हो गई क्योंकि आर्थिक मामलों के सचिव शक्तिकांत दास इसमें हिस्सा नहीं ले पा रहे थे। भारत और चीन के बीच पिछले दिनों सात दौर का वित्तीय संवाद हुआ है लेकिन इन सभी में वित्त सचिव ही शामिल रहे। यह पहली बार था जब दोनों देशों के वित्त मंत्री अरुण जेटली और लू जेवी आपस में बात करते।

टिप्पणियां

एनएसजी की वजह से बैठक टली
अरुण जेटली इस सिलसिले में चीन पहुंच भी गए हैं लेकिन फिर इस बैठक के टल जाने की खबर आ गई। अटकलें तो यह भी हैं कि एनएसजी के ताज़ा विवाद की वजह से बैठक को टाल दिया गया है। आधिकारिक तौर पर पहले बताया गया था कि दोनों मंत्रियों के बीच वार्ता 27 जून को होनी है। वार्ता के जरिए दोनों देश हर तरह के अंतरराष्ट्रीय और आर्थिक एवं वित्तीय सहयोग बढ़ाने के लिए द्विपक्षीय मुद्दों पर सालाना समीक्षा और चर्चा होती है।


गौरतलब है कि वित्तमंत्री बनने के बाद यह अरुण जेटली का पहला चीन दौरा है और इस दौरान उनकी निवेशकों और बैंकरों से भारत में निवेश संबंधित मसले पर बात होनी है। साथ ही कार्यक्रम में चीन द्वारा प्रायोजित एशियन इन्फ्रास्ट्रक्चर इन्वेस्टमेंट बैंक (AIIB) के गवर्नरों से मुलाकात भी है जिसमें भारत के अलावा 56 देश सदस्य हैं।



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement