कोलकाता में बोले अमित शाह- शरणार्थियों को जाने नहीं देंगे और किसी भी घुसपैठिए को रहने नहीं देंगे

एनआरसी का जिक्र करते हुए अमित शाह ने कहा, 'बंगाल में एनआरसी को लेकर गलत-गलत जानकारी फैलाई जा रही है. भाजपा सरकार एनआरसी के पहले सिटिजन अमेंडमेंट बिल लाने वाली है.

खास बातें

  • अमित शाह ने दूसरी बार जीत दिलाने के लिए बंगाल की जनता का जताया आभार
  • एनआरसी को लेकर शाह ने कहा- एक भी घुसपैठिए को नहीं रहने देंगे
  • अनुच्छेद 370 का जिक्र करते हुए श्यामा प्रसाद मुखर्जी को किया याद
कोलकाता:

Amit Shah in Kolkata: केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) ने मंगलवार को पश्चिम बंगाल के दौरे पर हैं. कोलकाता (Kolkata) में एनआरसी को लेकर आयोजित जनजागरण सभा को संबाधित करते हुए उन्‍होंने राज्‍य की ममता बनर्जी सरकर पर जमकर निशाना साधा. एनआरसी का जिक्र करते हुए अमित शाह ने कहा, 'बंगाल में एनआरसी को लेकर गलत-गलत जानकारी फैलाई जा रही है. भाजपा सरकार एनआरसी के पहले सिटिजन अमेंडमेंट बिल लाने वाली है. इस बिल के तहत भारत में जितने भी हिन्दू, सिख, बौद्ध, जैन, ईसाई शरणार्थी आये हैं, उन्हें हमेशा के लिए भारत की नागरिकता दी जाने वाली है.' अमित शाह ने कहा कि एक भी घुसपैठिए को इस देश में रहने नहीं दिया जाएगा, उन्‍हें चुन-चुनकर बाहर किया जाएगा. किसी भी शरणार्थी को जाने नहीं देंगे और किसी भी घुसपैठिए को रहने नहीं देंगे.' अमित शाह ने कहा कि जो भी हिंदू शरणार्थी अपनी धरती पर वापस आए हैं उन्‍हें यहां की नागरिकता दी जाएगी.

अमित शाह ने ममता सरकार पर हमला करते हुए कहा कि 'जब ममता दी विपक्ष में थीं, तब वो इन घुसपैठियों को हटाने की बात करती थीं. उन्होंने इसी मुद्दे पर राज्य विधानसभा अध्यक्ष के चेहरे पर अपनी शॉल तक फेंक दी थी. अब जब ये लोग उनके वोट बैंक बन गए हैं तो वह नहीं चाहती कि उन्हें हटाया जाए.'

इससे पहले गृह मंत्री ने सभा को संबोधित करते हुए देश में दूसरी बार बीजेपी को जीत दिलाने के लिए बंगाल की जनता का आभार जताया. उन्होंने कहा कि इस जीत में पश्चिम बंगाल की जनता का बड़ा योगदान है. उन्होंने कहा, ''पश्चिम बंगाल की जनता अगर परिवर्तन नहीं करती तो भाजपा 300 सीटों से ज्यादा जीतने का लक्ष्य पूरा नहीं कर पाती. इस लोकसभा चुनाव में बंगाल में भाजपा को 18 सीटों पर जीत मिली है. अब आने वाले चुनाव में यहां निश्चित रूप से भाजपा की सरकार बनने वाली है.''

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

शाह ने इस मौके पर भारतीय जनसंघ के संस्थापक रहे श्यामा प्रसाद मुखर्जी को याद करते हुए कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाने का भी जिक्र किया. उन्होंने कहा, ''बंगाल और अनुच्छेद 370 का चोली दामन का साथ है क्योंकि बंगाल के ही श्यामा प्रसाद मुखर्जी ने सबसे पहले इसके खिलाफ आवाज उठाई थी. उन्होंने ही कहा था कि एक देश में दो विधान, दो प्रधान और दो निशान नहीं चलेंगे.'' अमित शाह ने इस दौरान जनता से 'जहां बलिदान हुए मुखर्जी वो कश्मीर हमारा है' वाला नारा भी लगावाया. 

अमित शाह ने कहा, ''आज देश ही नहीं दुनिया भर ने पीएम मोदी के नेतृत्व को मान लिया है. उन्होंने पीएम मोदी की तारीफ करते हुए कहा कि वे 24 में से 18 घंटे काम करते हैं और उन्होंने एक भी छुट्टी नहीं ली, वेकेशन पर नहीं गए हैं.''