NDTV Khabar

...जब असदुद्दीन ओवैसी से गुस्से में अमित शाह बोले- सुनने की भी आदत डालिए, ऐसे नहीं चलेगा, देखें VIDEO

लोकसभा में सोमवार को एनआईए संशोधन विधेयक पर चर्चा के दौरान गृह मंत्री अमित शाह और एआईएमआईएम नेता असदुद्दीन ओवैसी के बीच नोकझोंक देखने को मिली.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
...जब असदुद्दीन ओवैसी से गुस्से में अमित शाह बोले- सुनने की भी आदत डालिए, ऐसे नहीं चलेगा, देखें VIDEO

लोकसभा में सोमवार को राष्ट्रीय अन्वेषण अधिकरण संशोधन विधेयक 2019 पर चर्चा शुरू हुई.

खास बातें

  1. असदुद्दीन ओवैसी पर भड़के अमित शाह
  2. शाह बोले- 'सुनने की भी आदत डालिए'
  3. एनआईए संशोधन विधेयक पर चर्चा के दौरान कही बात
नई दिल्ली:

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने लोकसभा में ऑल इंडिया ऑल इंडिया मजलिस ए इत्तेहादुल मुस्लिमीन के नेता असदुद्दीन ओवैसी से गुस्से में कहा, 'सुनने की भी आदत डालिए, ओवैसी साहब. इस तरह से नहीं चलेगा.' अमित शाह ने यह टिप्पणी एनआईए संशोधन बिल पर भाजपा सांसद सत्यपाल सिंह के भाषण में ओवैसी के अवरोध पैदा करने पर की है. सत्यपाल सिंह एनआईए संशोधन बिल पर सदन में अपना भाषण दे रहे थे, तभी ओवैसी ने किसी बात पर विरोध करना शुरू कर दिया. इस पर केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह अपनी सीट से उठे और ओवैसी से यह बात कही.

लोकसभा में सोमवार को एनआईए संशोधन विधेयक पर चर्चा के दौरान गृह मंत्री अमित शाह और एआईएमआईएम नेता असदुद्दीन ओवैसी के बीच नोकझोंक देखने को मिली. ओवैसी ने कहा कि आप गृह मंत्री हैं तो डराइए मत, जिस पर शाह ने कहा कि वह डरा नहीं रहे हैं, लेकिन अगर डर जेहन में है तो क्या किया जा सकता है. ‘राष्ट्रीय अन्वेषण अभिकरण (संशोधन) विधेयक 2019' पर चर्चा में भाग लेते हुए भाजपा के सत्यपाल सिंह ने कहा कि हैदराबाद के एक पुलिस प्रमुख को एक नेता ने एक आरोपी के खिलाफ कार्रवाई करने से रोका था और कहा कि वह कार्रवाई आगे बढ़ाते हैं तो उनके लिए मुश्किल हो जाएगी.

इस पर एआईएमआईएम के असदुद्दीन ओवैसी अपने स्थान पर खड़े हो गए और कहा कि भाजपा सदस्य जिस निजी वार्तालाप का उल्लेख कर रहे हैं और जिनकी बात कर रहे हैं वो यहां मौजूद नहीं हैं. क्या भाजपा सदस्य इसके सबूत सदन के पटल पर रख सकते हैं?


VIDEO: असदुद्दीन ओवैसी की शपथ के दौरान संसद में लगे 'जय श्रीराम' के नारे, AIMIM सांसद बोले- काश... 

बता दें, लोकसभा में सोमवार को राष्ट्रीय अन्वेषण अधिकरण संशोधन विधेयक 2019 पर चर्चा शुरू हुई और सरकार ने कहा कि आज जब देश दुनिया को आतंकवाद के खतरे से निपटना है, ऐसे में एनआईए संशोधन विधेयक का उद्देश्य एनआईए को राष्ट्रहित में मजबूत बनाना है. निचले सदन में गृह राज्य मंत्री जी किशन रेड्डी ने विधेयक को चर्चा एवं पारित होने के लिये रखा. इसमें राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) को भारत से बाहर किसी अनुसूचित अपराध के संबंध में मामले का पंजीकरण करने और जांच का निर्देश देने का प्रावधान किया गया है.

टिप्पणियां

AIMIM प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी का मोदी सरकार पर हमला- Tweet कर पूछा इस सवाल का जवाब...

गृह राज्य मंत्री रेड्डी ने कहा कि इस संशोधन विधेयक का मकसद एनआईए अधिनियम को मजबूत बनाना है. आज आतंकवाद बहुत बड़ी समस्या है, देश में ऐसे उदाहरण हैं जब मुख्यमंत्री, प्रधानमंत्री आतंकवाद के शिकार हुए हैं. आतंकवाद आज अंतरराज्यीय और अंतरराष्ट्रीय समस्या है. ऐसे में हम एनआईए को सशक्त बनाना चाहते हैं. (इनपुट- एजेंसी)



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement