Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
NDTV Khabar

Delhi Polls 2020: अमित शाह के चुनावी भाषणों में सिर्फ CAA-शाहीन बाग-राम मंदिर का जिक्र

अमित शाह का इरादा दिल्ली में 50 से ज्यादा इस तरह की जनसभाएं करने का है. जनसभाएं अलग-अलग जगह होती है लेकिन राम मंदिर, जेएनयू और नागरिकता कानून पर भाषा एक ही जैसी है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
Delhi Polls 2020: अमित शाह के चुनावी भाषणों में सिर्फ CAA-शाहीन बाग-राम मंदिर का जिक्र

अमित शाह दिल्ली में 6 जनसभाएं कर चुके हैं.

खास बातें

  1. अमित शाह नहीं कर रहे स्थानीय मुद्दों पर ज्यादा बात
  2. चुनावी भाषण में शाहीन बाग-CAA जैसे मुद्दे हावी
  3. अगले दो हफ्तों में बीजेपी के 250 नेता करेंगे 10 हजार छोटी जनसभाएं
नई दिल्ली:

दिल्ली विधानसभा चुनाव में बीजेपी का प्रचार शाहीन बाग, राम मंदिर और पाकिस्तान के इर्दगिर्द घूम रहा है. बीते दो दिनों में अमित शाह ने छह सभाएं की है लेकिन इन जनसभाओं में वे स्थानीय मुद्दे कम और CAA के विरोध पर चल रहे प्रदर्शन पर ज्यादा बात कर रहे हैं. भारी पुलिस बल की मौजूदगी में दिल्ली की अति संवेदनशील विधानसभा मुस्तफाबाद में CAA के विरोध में सड़कों पर प्रदर्शन हो रहा है. इसी जगह से 200 मीटर की दूरी भारी सुरक्षा व्यवस्था के बीच गृह मंत्री अमित शाह की सभा हुई. इस दौरान 20 मिनट के अपने भाषण में  शाह ने CAA और शाहीन बाग का बढ़-चढ़कर जिक्र किया. इतना ही नहीं उन्होंने अरविंद केजरीवाल और कांग्रेस पर भी जमकर हल्ला बोला. उन्होंने कहा, ''दिल्ली में दंगा कराने का आरोप कांग्रेस और आप पार्टी पर है. आज भी कहते हैं कि हम शाहीन बाग वालों के साथ है उनको अपना वोट बैंक चाहिए ये दिल्ली को सुरक्षित नहीं रख पाएंगे.''

अमित शाह ने सीएम केजरीवाल पर साधा निशाना, कहा- झूठ बोलने में इस आदमी का कोई...


एक दिन पहले यानि गुरुवार को मटियाला विधानसभा में हुई रैली में भी अमित शाह ने इसी तरह की बातें की थी. वे अब तक दिल्ली में इस तरह की 6 जनसभाएं कर चुके हैं लेकिन हर जगह उनके बीस मिनट के भाषण में 12 से 15 मिनट राम मंदिर, शाहीन बाग, पाकिस्तान और इमरान का जिक्र एक जैसा ही होता. शाह ने राम मंदिर निर्माण को लेकर कहा,  ''ये लोग वोट बैंक के लिए मंदिर का विरोध कर रहे हैं लेकिन चार महीने के अंदर मंदिर बनाने का काम शुरु किया जाएगा.''

टिप्पणियां

CAA पर अमित शाह की बहस की चुनौती पर मायावती ने किया पलटवार, कही ये बात...

शाह का इरादा दिल्ली में 50 से ज्यादा इस तरह की जनसभाएं करने का है. जनसभाएं अलग-अलग जगह होती है लेकिन राम मंदिर, जेएनयू और नागरिकता कानून पर भाषा एक ही जैसी है. यही नहीं अगले दो हफ्तों में बीजेपी के 250 नेता करीब 10000 छोटी जनसभाएं करेंगे और हर जनसभा में CAA के खिलाफ चल रहे शाहीन बाग का प्रदर्शन, राम मंदिर, जेएनयू और पाकिस्तान जैसे मुद्दों पर वोटों का ध्रुवीकरण करने की रणनीति है ताकि इसका सियासी फायदा उठाया जा सके. 
VIDEO: झूठा वादा करने में केजरीवाल सबसे आगे हैं - अमित शाह
  



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें. India News की ज्यादा जानकारी के लिए Hindi News App डाउनलोड करें और हमें Google समाचार पर फॉलो करें


 Share
(यह भी पढ़ें)... कैसे तेजस्वी और नीतीश की मुलाक़ात के आधे घंटे के अंदर NPR के ख़िलाफ़ प्रस्ताव सर्वसम्मति से पारित हो गया

Advertisement