CRPF जवानों के परिवारों की देखभाल के लिए प्रतिबद्ध है मोदी सरकार: अमित शाह

गृह मंत्री अमित शाह (Home Minister Amit Shah) ने रविवार को कहा कि मोदी सरकार (Modi Government) देश की रक्षा करने वाले केंद्रीय सुरक्षा बलों के जवानों के परिवारों की देखभाल करने के लिए प्रतिबद्ध है.

CRPF जवानों के परिवारों की देखभाल के लिए प्रतिबद्ध है मोदी सरकार: अमित शाह

अमित शाह सीआरपीएफ के नए मुख्यालय भवन के शिलान्यास के लिए पहुंचे थे.

खास बातें

  • सीआरपीएफ जवानों के नए मुख्यालय के शिलान्यास के लिए पहुंचे अमित शाह
  • कहा- केंद्र सरकार CRPF जवानों के परिवारों की रक्षा के लिए प्रतिबद्ध है
  • CRPF जवानों का नया मुख्यालय 12 मंजिला होगा
नई दिल्ली:

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह (Home Minister Amit Shah) ने रविवार को कहा कि मोदी सरकार (Modi Government) देश की रक्षा करने वाले केंद्रीय सुरक्षा बलों के जवानों के परिवारों की देखभाल करने के लिए प्रतिबद्ध है. अमित शाह ने सीआरपीएफ (CRPF)  के नए मुख्यालय भवन के शिलान्यास के दौरान सीआरपीएफ कर्मियों को संबोधित करते हुए कहा कि सरकार यह सुनिश्चित करने के लिए काम कर रही है कि अर्धसैनिक बल के प्रत्येक जवान कम से कम 100 दिन अपने परिवार के साथ बिताएं. 

यह भी पढ़ें: अमित शाह ने राहुल गांधी को दी नागरिकता कानून पर बहस की चुनौती, पी चिदंबरम ने दिया जवाब

उन्होंने यह भी कहा कि अर्धसैनिक बल के जवानों के परिवारों को स्वास्थ्य कार्ड की सुविधा प्रदान की जाएगी. सीआरपीएफ में तीन लाख से अधिक जवान हैं और यह बल नक्सल विरोधी अभियानों का मुख्य आधार रहा है. केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल का नया मुख्यालय लोधी रोड पर 277 करोड़ रुपये की अनुमानित लागत से 2.23 एकड़ भूमि में बनेगा, जो सीबीआई के मुख्यालय से सटा है. 

सीपीडब्ल्यूडी को 2022 तक नए भवन के निर्माण का काम सौंपा गया है. सीआरपीएफ का वर्तमान मुख्यालय लोधी रोड पर केंद्र सरकारी कार्यालय (सीजीओ) परिसर में ब्लॉक नंबर 1 में स्थित है, लेकिन मुख्यालय की इमारत में जगह की कमी है. इसके चलते सुरक्षा बल के कई कार्यालय, जैसे आरएएफ, कोबरा, चिकित्सा, प्रशिक्षण, संचार और कार्य एवं भर्ती संबंधी कार्यालय, राष्ट्रीय राजधानी में विभिन्न स्थानों में स्थित हैं. 

नया मुख्यालय 12 मंजिला होगा, जिनमें सभागार, सम्मेलन कक्ष, अधीनस्थ कर्मचारियों के लिए बैरक, कैंटीन, व्यायामशाला, अतिथि गृह, रसोईघर और भोजन कक्ष और 520 कारों और 15 बसों के लिए पार्किंग की व्यवस्था होगी. कार्यालय ब्लॉक को कैफेटेरिया से जोड़ने के लिए इमारत की छठी और सतवीं मंजिल पर स्काईवॉक बनाए जाएंगे.भवन में एक जल और मलजल शोधन संयंत्र, वर्षा जल संचयन प्रणाली और एक स्वदेशी वातायन प्रणाली बनाने का भी प्रस्ताव है.



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)
 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com