NDTV Khabar

तीन राज्यों में मिली हार के बाद अब बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह दिल्ली में बूथ प्रभारियों को देंगे नुस्खे

मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ और राजस्थान में चुनाव हारने के बाद बीजेपी को तगड़ा झटका लगा है. यह हार ऐसे समय में हुई जब चार महीने बाद लोकसभा चुनाव होने जा रहे हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
तीन राज्यों में मिली हार के बाद अब बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह दिल्ली में बूथ प्रभारियों को देंगे नुस्खे

बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ( फाइल फोटो )

नई दिल्ली:

भारतीय जनता पार्टी (BJP) के अध्यक्ष अमित शाह 2019  के लोकसभा चुनावों की तैयारी को लेकर दिल्ली के इंदिरा गांधी इंडोर (आईजीआई) स्टेडियम में पार्टी की दिल्ली इका‍ई के करीब 12,000 बूथ प्रभारियों को रविवार को प्रबंधन के नुस्खे देंगे. पार्टी नेताओं ने कहा कि बूथ प्रभारियों को बार कोड वाले पहचान पत्र दिए गए हैं ताकि कार्यक्रम में उनके शामिल होने की बात सुनिश्चित हो सके. दिल्ली भर में कुल 13,816 मतदान केंद्र हैं और पार्टी ने अब तक करीब 12,000 बूथ प्रभारियों को नियुक्त किया है. भाजपा की दिल्ली इकाई के बूथ प्रबंधन विभाग के प्रमुख धरमबीर सिंह ने बताया कि पार्टी के जिला एवं उससे नीचे के स्तर के बूथ प्रभारियों की बैठकें आयोजित होती रही हैं. यह पहली बार है जब राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं बूथ प्रभारियों के बीच राज्य स्तरीय संवाद आयोजित किया जाएगा. सिंह ने कहा, 'संवाद के दौरान बूथ प्रभारियों को पार्टी अध्यक्ष के समक्ष अपने सुझाव रखने का मौका भी दिया जाएगा.' पार्टी सुनिश्चित करेगी कि बूथ अध्यक्ष अनिवार्य रूप से इसमें शामिल हों. प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी और पार्टी के अन्य वरिष्ठ नेता भी इस कार्यक्रम में शामिल होंगे. 

BJP नेता ने अमित शाह सहित सभी सांसदों को लिखा खुला पत्र, कहा-इस कानून से ही निपटेंगी सारी समस्याएं


गौरतलब है कि  मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ और राजस्थान में चुनाव हारने  के बाद बीजेपी को तगड़ा झटका लगा है. यह हार ऐसे समय में हुई जब चार महीने बाद लोकसभा चुनाव होने जा रहे हैं. मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ में कांग्रेस ने कर्जमाफी का ऐलान कर बड़ा दांव फेंक दिया है. ऐसे में बीजेपी को भी बूथ स्तर तक अब अपनी रणनीति में बदलाव करना होगा. 

राफेल को लेकर कांग्रेस पर अमित शाह का पलटवार : SC का जजमेंट झूठ की राजनीति करने वालों के मुंह पर तमाचा

बीजेपी को मध्य प्रदेश में 109, राजस्थान में 73 सीटें और छत्तीसगढ़ में करारी हार मिली है. यहां पर बीजेपी को 20 से कम सीटें मिली हैं. 

टिप्पणियां

सिब्बल का राफेल मुद्दे पर पलटवार - बचकाने बयान देना बंद करें अमित शाह​

इनपुट : भाषा



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement