गृहमंत्री अमित शाह ने CM ममता बनर्जी को लिखा खत- प्रवासियों के लिए ट्रेनों की अनुमति नहीं देना 'अन्याय'

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) ने शनिवार को पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) को फंसे हुए मजदूरों और प्रवासियों को लेकर एक पत्र लिखा.

गृहमंत्री अमित शाह ने CM ममता बनर्जी को लिखा खत- प्रवासियों के लिए ट्रेनों की अनुमति नहीं देना 'अन्याय'

गृहमंत्री अमित शाह ने बंगाल CM ममता बनर्जी को लिखा खत- फाइल फोटो

खास बातें

  • गृह मंत्री अमित शाह पर बंगाल की सीएम ममता पर निशाना
  • बंगाल सरकार के असहयोग से प्रवासियों के लिए और अधिक कठिनाई होगी : शाह
  • पश्चिम बंगाल में कोरोना संक्रमण के अब तक 1,678 मामले सामने आए
नई दिल्ली:

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) ने शनिवार को पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) को फंसे हुए मजदूरों और प्रवासियों को लेकर एक पत्र लिखा. इस पत्र में गृह मंत्री ने कहा कि फंसे हुए प्रवासियों की वापसी को लेकर केंद्र को बंगाल सरकार से अपेक्षित समर्थन नहीं मिल रहा है.

अपने पत्र में गृहमंत्री अमित शाह ने बंगाल सरकार पर आरोप लगाया कि रेलवे द्वारा चलाए गए श्रमिक ट्रेनों को राज्य में चलने दिया और इससे देशभर में फंसे बंगाली प्रवासियों के लिए "अन्याय" होगा.

अमित शाह ने जोर देते हुए यह भी कहा कि केंद्र ने अब तक दो लाख फंसे प्रवासियों को कोरोनोवायरस लॉकडाउन (Coronavirus Lockdown) के बीच घर लौटने में मदद की. उन्होंने इस संबंध में बंगाल सरकार को चेताया कि असहयोग से प्रवासियों के लिए और अधिक कठिनाई पैदा होगी.

शाह ने पत्र में लिखा- "हमें पश्चिम बंगाल से उम्मीद के मुताबिक समर्थन नहीं मिल रहा है. राज्य सरकार अपने यहां ट्रेनों को अनमुति नहीं दे रही है. यह बंगाल के प्रवासी मजदूरों के साथ अन्याय है. इससे उनके लिए मुश्किलें बढ़ेंगी." 

कोरोना संकट जैसे मुश्किल समय में केंद्र और पश्चिम बंगाल सरकार के बीच पहले भी विवाद सामने आ चुके हैं. हाल ही में केंद्र की ओर से पश्चिम बंगाल समेत अन्य राज्यों में केंद्रीय टीम भेजी गई थी. जिसको लेकर भी दोनों आमने-सामने आ गए थे. कोलकाता पहुंची केंद्रीय टीम ने ममता बनर्जी सरकार पर सहयोग नहीं करने का आरोप भी लगाया था. 

कुछ दिन पहले केंद्र सरकार ने कहा था कि देश में सबसे तेज गति से कोरोनावायरस से मौतें पश्चिम बंगाल में हो रही हैं. कोरोनवायरस मृत्यु दर की बात की जाए तो पश्चिम बंगाल में यह अन्य राज्यों के मुकाबले सबसे ज्यादा है. केंद्र सरकार ने जानकारी दी है कि पश्चिम बंगाल में कोरोना मृत्यु दर 13.2 फीसदी है. केंद्र ने साफ किया है कि एक ओर जहां कोरोना से होने वाली मौतों की रफ्तार तेज तो वहीं कोरोना जांच किए जाने के मामले में भी पश्चिम बंगाल पिछड़ता नजर आ रहा है. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

पश्चिम बंगाल में कोरोना संक्रमण के  1,678 मामले सामने आए हैं और अब तक 160 लोगों की इस वायरस से मौत हो चुकी है. देश में जारी लॉकडाउन (COVID-19 Lockdown) के बावजूद संक्रमितों का आंकड़ा 59 हजार पार कर गया है. भारत में कोरोना संक्रमितों की संख्या 59,662 हो गई है. बीते 24 घंटे में कोरोना के 3320 मामले दर्ज किए गए हैं, जबकि 95 मरीजों की मौत हुई है. अब तक कुल 17,847 लोग इससे ठीक भी हो चुके हैं. देश में कोरोनावायरस से अबतक 1,981 लोगों की मौत हो चुकी है.

वीडियो: पश्चिम बंगाल में कोरोना संक्रमित मामलों में अचानक हुई बढ़ोतरी