NDTV Khabar

अमृतसर हादसा : झड़प के बाद पटरियों से हटाए गए प्रदर्शनकारी, 40 घंटे बाद बहाल हुई ट्रेन सेवाएं

रेलवे के एक प्रवक्ता ने बताया कि रेलवे को स्थानीय अधिकारियों से दोपहर साढ़े 12 बजे ट्रेन सेवाएं बहाल करने की मंजूरी मिली.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
अमृतसर हादसा : झड़प के बाद पटरियों से हटाए गए प्रदर्शनकारी, 40 घंटे बाद बहाल हुई ट्रेन सेवाएं

पुलिस की प्रदर्शनकारियों से झड़प भी हुई

अमृतसर:

अमृतसर में जिस रेलवे ट्रैक पर दशहरे के दिन 61 लोगों की जान चली गई थी ठीक उसी रेलवे ट्रैक पर रविवार को ट्रेन निकालकर रेल सेवा बहाल कर दी गई. इससे पहले स्थानीय लोगों और पुलिस में जोर आजमाइश भी हुई और हिंसा भी. लोगों की शिकायत थी कि मुआवज़ा बढ़ाया जाए, मारे गए लोगों के परिवार वालों को सरकारी नौकरी दी जाए जिसको लेकर वो लगातार विरोध प्रदर्शन कर रहे थे. फिर लोगों ने पुलिस पर पथराव शुरू कर दिया जिसमें कुछ पुलिस वाले घायल भी हुए. पुलिस ने तब सख्ती दिखाते हुए रेलवे ट्रैक कंट्रोल में ले लिया. उधर दशहरा कार्यक्रम के आयोजक कांग्रेस पार्षद के पुत्र सौरभ मदान मिट्ठू के घर के बाहर लगातार दूसरे दिन भी ताला लगा मिला हालांकि नाराज़ लोगों ने उनके घर पथराव किया जिससे घर के शीशे टूट गए.

Amritsar Train Accident: 61 लोगों की मौत का कोई जिम्मेदार नहीं? हर किसी ने झाड़ा पल्ला


रेलवे के एक प्रवक्ता ने बताया कि रेलवे को स्थानीय अधिकारियों से दोपहर साढ़े 12 बजे ट्रेन सेवाएं बहाल करने की मंजूरी मिली. उत्तर रेलवे के प्रवक्ता दीपक कुमार ने कहा, “पहली मालगाड़ी दोपहर दो बजकर 16 मिनट पर मनावला से अमृतसर रवाना हुई.” उन्होंने बताया कि इसके बाद मेल या एक्सप्रेस ट्रेनों का आवागमन शुरू किया जाएगा. फिरोजपुर मंडल के वरिष्ठ मंडलीय सुरक्षा आयुक्त (रेलवे) एस सुधाकर ने कहा, “प्रभावित पटरी (जोड़ा फाटक) पर ट्रेन सेवाएं फिर से शुरू हो गई हैं. एक मालगाड़ी को इस मार्ग से गुजरने की अनुमति दी गई.”

अब भी अपनों के इंतजार में है 10 माह का मासूम, अस्पताल ने हेल्पलाइन नंबर जारी कर मांगी मदद

ट्रेन सेवाएं बहाल होने के बावजूद रेलवे ने रविवार को 17 ट्रेनें रद्द कर दीं, 14 को गंतव्य से पहले ही उनका मार्ग पूरा कर दिया गया और सात ट्रेनों का मार्ग बदल दिया गया. इससे पहले पंजाब पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को पटरी पर से हटाया, जो वहां धरना दे रहे थे. पटरी से हटाए जाने के दौरान गुस्साए प्रदर्शनकारियों ने पुलिस पर पथराव किया, जिससे सुरक्षाकर्मियों के साथ उनकी झड़प हुई.

टिप्पणियां

VIDEO: अमृतसर ट्रेन हादसा : स्थानीय लोगों का फूटा गुस्सा, झड़प

पुलिस अधिकारियों ने बताया कि पथराव में पंजाब पुलिस का एक कमांडो और एक फोटो पत्रकार घायल हो गये. प्रदर्शनकारी राज्य सरकार के खिलाफ नारेबाजी और पंजाब के मंत्री नवजोत सिंह सिदद्धू के इस्तीफे की मांग कर रहे थे. अधिकारियों ने बताया कि भीड़ को नियंत्रित करने के लिए पंजाब पुलिस ने कमांडो समेत अपने अन्य कर्मी तैनात किए हैं. जोड़ा फाटक इलाके में त्वरित कार्य बल (आरएएफ) के कर्मी भी मौजूद हैं. (इनपुट भाषा से...)



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement